Browsing Tag

The ‘Chaurichora scandal’ was a byproduct of the British.

अंग्रेजों की दरिंदगी का प्रतिफल था ‘चौरीचौरा कांड’

सन 1922 की सर्दियों में असहयोग आंदोलन अपने पूरे चरम पर था। पूरे राष्ट्र में जगह-जगह लोग गाँधी जी के आह्वान पर अपने-अपने तरीके से माँ भारती को पराधीनता से मुक्त कराने में जी जान से लगे थे। इसीक्रम में 04 फरवरी सन 1922 को पूर्वी उत्तर…
Read More...