Browsing Tag

Take suo motu cognizance of disputed statements of judiciary leaders

न्यायपालिका नेताओं के विवादित बयानों का स्वतः संज्ञान ले

न्यायपालिका से आमजन को काफी उम्मीद रहती है। एक आम आदमी के लिए जब इंसाफ के सभी दरवाजें बंद हो जाते हैं तब अदालत उसके लिए ‘आखिरी रास्ता’ साबित होता है। कई बार तो जब कोई पीड़ित इंसाफ के लिए अदालत की चैखट तक पहुंचने में असहाय-मजबूर नजर आता…
Read More...