शेख हसीना भी रोहिंग्याओं को खतरे की घंटी मानी

रोहिंग्या मुसलमान शरणार्थियों पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के विचार काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं और रोहिंग्या शरणार्थियों की मदद मे लगे दुनिया के नियामकों व संस्थानों की उलझनें तथा कठिनाइयां बढ़ने वाली हैं। अब यहां यह…
Read More...

क्वाड के पीछे का मकसद हिंद-प्रशांत को सैन्य या राजनीतिक प्रभाव से मुक्त रखना है

क्वाड, जिसे 'चतुर्भुज सुरक्षा वार्ता' (क्यूएसडी) के रूप में भी जाना जाता है, एक अनौपचारिक रणनीतिक मंच है जिसमें चार राष्ट्र शामिल हैं, अर्थात् संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए), भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान। क्वाड के प्राथमिक उद्देश्यों…
Read More...

पर्यावरण अनुकूल जीवन शैली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि पृथ्वी को नुकसान पहुंचाने में भारतीयों की कोई भूमिका नहीं है और पर्यावरण अनुकूल जीवनशैली को बढ़ावा देना समय की जरूरत है। नॉर्डिक राष्ट्र की अपनी यात्रा के दौरान डेनमार्क में बसे भारतीय समुदाय…
Read More...

जर्मनी ,डेनमार्क और फ्रांस के साथ भारत की नई कूटनीति

भारत की विदेश नीति एवं कूटनीति में अब नए आयाम जुड़ते जा रहे हैंl विशेष तौर पर प्रधानमंत्री विदेश मंत्री जयशंकर जी की कूटनीति कि यूरोप के तीन देशों की यात्रा अत्यंत महत्वपूर्ण इसलिए भी है कि अभी पूरे विश्व में रूस और यूक्रेन के युद्ध को…
Read More...

कार्यस्थल पर सुरक्षा और स्वास्थ्य मानक महत्वपूर्ण

विश्वभर में 28 अप्रैल को कार्यस्थल पर सुरक्षा एवं स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा यह दिन व्यावसायिक दुर्घटनाओं और बीमारियों की रोकथाम को बढ़ावा देने और कार्यस्थल पर स्वास्थ्य और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के…
Read More...

 तालिबान और पाकिस्तान में आतंकवादी गतिविधियों को लेकर तनाव

आतंकवादी जितने भी संगठन हैं वह कभी एक होकर नहीं रह सकते हैंl पाकिस्तान के प्रतिबंधित तहरीके तालिबान पाकिस्तान सहित अन्य संगठनों द्वारा अमेरिका के विरुद्ध तालिबान सरकार बनाने में कंधे से कंधा मिलाकर युद्ध लड़ा था। अब यही संगठनों ने11…
Read More...

परमाणु अप्रसार संधि पर लगी जंग

वैश्विक शांति सद्भावना और सौहार्द्र के लिए वैश्विक देशों ने एक मत हो कर परमाणु अप्रसार संधि पर 1970 में लगभग विश्व के सारे देशों ने अपनी मुहर लगाई थीl विश्व के 191 देशों ने अपनी सहमति जताकर परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर किए थेl यह इस…
Read More...

जीवन की रक्षा के लिये पृथ्वी संरक्षण जरूरी

पृथ्वी दिवस पूरे विश्व में 22 अप्रैल को मनाया जाता है। इस वर्ष पृथ्वी दिवस की थीम ‘इन्वेस्ट इन अवर प्लैनेट’ है, जो हमें हरित समृद्धि से समृद्ध जीवन बनाने के लिए प्रोत्साहित करती है। यह थीम संदेश देती है कि हमारे स्वास्थ्य, हमारे परिवारों,…
Read More...

ग्लोबल वार्मिंग की तेज रफ्तार, एक बड़ी चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र संघ की संस्था आई,पी,सी,सी, की ताजा रिपोर्ताज के अनुसार विश्व के अमीर देश अकेले ही 60% से ज्यादा उत्सर्जन के लिए जिम्मेदार हैं। जबकि इसका उल्टा गरीब देशों का कुल गैस उत्सर्जन का 12 से 14% ही है और स्थिति यह है कि…
Read More...

क्यों यूक्रेन में पढ़ते हजारों भारतीय बच्चे!

रूस- यूक्रेन के बीच जंग की स्थितियां लगातार बनी हुई  है। आशंका है कि रूस कभी भी यूक्रेन पर हमला कर सकता है। इस अप्रिय स्थिति के चलते भारत के सामने भी एक बड़ी चुनौती खड़ी हो गयी है। भारत के हजारों विद्यार्थी यूक्रेन में हैं। ये वहां पर…
Read More...