कठमुल्ला बांग्लादेश में खतरे में कैसे आया इस्लाम

बांग्लादेश में हाल ही में जमकर हिंसा और तोड़फोड़ हुई। यह वहां पर तब हुआ जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बांग्लादेश के दौरे पर गए हुए थे। प्रधानमंत्री मोदी के दौरे के ख़िलाफ़ बांग्लादेश में लगातार तीन दिन झड़पें हुईं। भयानक हिंसा के पीछे…
Read More...

भारत से दिख रहे सहमे-सहमे चीन-पाक

बीते कुछ समय के दौरान दो महत्वपूर्ण और सकारात्मक घटनाएं देश की कूटनीति के मोर्चे पर सामने आईं। इनका संबंध भारत के चिर ‘शत्रु पड़ोसियों’ क्रमश: चीन और पाकिस्तान से है। इन दोनों के साथ भारत के बेहद खराब रिश्ते पिछले साठ दशकों से चलते ही रहे…
Read More...

संविधान की नेपाल में बम-बम

नेपाल में अंततः नकारात्मक सियासत हार गई, संविधान जीत गया।वहां की शीर्ष अदालत के संसद बहाली के सुप्रीम आदेश के बाद लोकतंत्र मुस्करा उठा है। नेपाल की बड़ी अदालत ने प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को बड़ा झटका देते हुए प्रतिनिधि सभा को फिर से बहाल…
Read More...

वैश्विक समुदाय में बढ़ती भारत की धाक

बात चाहे कोविड महामारी की हो या चिकित्सा और स्वास्थ्य के क्षेत्र की या शांति रक्षा मिशनों की हो या जलवायु परिवर्तन की या आर्थिक क्षेत्र की हो या आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाने की आज दुनिया के देश भारत की और आशा और विश्वास की दृष्टि से देखने…
Read More...

ईरान के पाक पर हमले से क्या सीखे भारत

ईरान ने पाकिस्तान में फिर से सर्जिकल स्ट्राइक किया है। इस हमले का नतीजा यह हुआ कि ईरान ने अपने कुछ अपह्त कर लिए गए नागरिकों को “जैश उल अदल” नाम के आतंकी संगठन के कब्जे से छुड़वा लिए। ईरान की यह सैन्य कार्रवाई विगत मंगलवार की रात को हुई।…
Read More...

फिर से ज़ख़्मी म्यांमार

दुनिया को जैसा अंदेशा था, बिल्कुल वैसा ही हुआ, लेकिन नोबल पुरस्कार विजेता एवम् डेमोक्रेसी की प्रबल प्रहरी आन सान सू की सेना के इस खतरनाक इरादों को सूंघ नहीं पाईं। पड़ोसी मुल्क म्यांमार में अंततः लोकतंत्र फिर से चोटिल हो गया है। बेइंतहा…
Read More...

पेंडुलम की मानिंद नेपाली डेमोक्रेसी

दुनिया में मानवीय हक.हकुकों के लिए लोकतांत्रिक प्रणाली मुफीद मानी जाती है। अमेरिका से लेकर हिंदुस्तान की सियासत में लोकतंत्र के सफर की मिसाल बेमिसाल है। अमेरिका के ताजा तरीन जख्मों को न कुरेदें तो दोनों लोकतांत्रिक देशों का सिस्टम दीगर…
Read More...

नए अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए भारत है सफलता की कहानी

अमेरिका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ले ली है।अमेरिका के नये राष्ट्रपति जो बाइडेन के सामने बहुत से अवसर हैं और चुनौतियां भी। कोरोना वायरस महामारी के दौर में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति…
Read More...

डोनाल्ड ट्रम्प भारत के लिए मित्र थे

डोनाल्ड ट्रम्प ने अपनी अंतिम समय में अपनी दुर्गति खुद करायी। डोनाल्ड ट्रम्प के अंतिम समय की मूर्खता को कोई लोकतांत्रिक व्यक्ति समर्थन नहीं कर सकता है, उन पर लोकतांत्रिक मूल्यों के हनन और लोकतांत्रिक ढाचे पर हिंसा के प्रेरित दोष का आरोप है…
Read More...

वीगर मुसलमानों का जनसांख्यिकीय नरसंहार रोको

चीन का खौफनाक और हिंसक कारवाई कोई नयी नहीं है, अपने ही नागरिकों के खिलाफ हिंसक और खौफनाक कार्रवाई को लेकर चीन की आलोचना होती रही है, पर चीन के लिए मानवाधिकार का संरक्षण कोई अहम स्थान नहीं रखता है और अपने नागरिकों के प्रति नरम व्यवहार तथा…
Read More...