विश्व धरोहर में शामिल होने की शक्ति रखते हैं देलवाड़ा के जैन मन्दिर

 मन्दिर की छतों पर झूमते, लटकते कमलआकृति के गुम्बज का पेंडेंट नीचे की ओर आते हुए गोलाकार संकरा होता हुआ एक बिन्दु बनाता है जो कमल की तरह प्रतीत होता है।जगह-जगह पर अम्बिका, पद्मावती, शीतला,  सरस्वती, नृत्य करती नायिकाएं…
Read More...

पत्थरों में अनगढ़ सौन्दर्य का चमत्कार ” रणकपुर केे मन्दिर”

देश के अनेक जैन मंदिरों की श्रंखला में राजस्थान के रणकपुर जैन मन्दिर को धर्म और आस्था के साथ शिल्प का चमत्कार कहें तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। भारत में आश्चर्यों की कमी नहीं है। दुनिया में अद्भुत मंदिरों, गुफाओं और खूबसूरत…
Read More...

संग्रहालय कराता है पृथ्वी मानव और पर्यावरण का दिग्दर्शन

अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस हर साल 18 मई को मनाया जाता है। इस दिवस का मुख्य उद्देश्य लोगों को संग्रहालय और धरोहरों के प्रति जागरूक करना है। संग्रहालय या म्यूजियम एक ऐसा संस्थान है है जो समाज की सेवा और विकास के लिए जनसामान्य…
Read More...

 स्थापत्यकला का चमत्कार कीर्ति स्तम्भ

जैन धर्म की आकर्षक कारीगरी पूर्ण प्रतिमाओं, धार्मिक प्रतीक चिन्हों, लोकजीवन प्रतिमाओं से सुसज्जित कीर्तिस्तंभ अपने आप में स्थापत्यकला और मूर्तिशिल्प का चमत्कार है। राजस्थान के जग विख्यात चित्तौड़गढ़ दुर्ग में स्थित कला संसार की…
Read More...

कश्मीरी दिखाएं भारत के प्रति अटूट आस्था

कश्मीर की वादियों से बहने वाली फिजाएं अब कश्मीरियों के बीच एक उम्मीद अवश्य जगा रही हैं। उम्मीद इस बात कि अब घाटी में जिंदगी पटरी पर लौट रही है। वहां पर भय तथा डर का माहौल लगभग समाप्त हो रहा है। यदि यह बात सच से परे होती तो श्रीनगर के…
Read More...

विरासत का खजाना है भारत

विश्व धरोहर या विश्व विरासत दिवस प्रति वर्ष 18 अप्रैल को मनाया जाता है। यह दिवस पूरे विश्व में मानव से जुड़ी ऐतिहासिकए सांस्कृतिक और प्राकृतिक चीजों के संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है। विश्व विरासत दिवस 2022 का…
Read More...

संरक्षण होगा तो नई पीढ़ी को देखने को मिलेगी धरोहर

डॉ.प्रभात कुमार सिंघल, कोटा  सांस्कृतिक धरोहर स्थलों में स्मारक, स्थापत्य की इमारतें, शिलालेख, गुफा आवास, विश्व महत्व वाले स्थान, इमारतों का समूह, अकेली इमारत, मूर्तिकारी-चित्रकारी-स्थापत्य की झलक वाले स्थल, ऐतिहासिक, सौन्दर्य एवं मानव…
Read More...

भारत में पर्यटन विकास की अपार संभावनाएं

विश्व पर्यटन दिवस प्रत्येक वर्ष 27 सितम्बर को मनाया जाता है। विश्व पर्यटन दिवस 2021 की थीम “समावेशी विकास के लिए पर्यटन” है। समावेशी पर्यटन-विकास के जरिये समावेशी आर्थिक विकास को बल मिल सकता है। इसके लिए पर्यटन से समाज के हर तबके को…
Read More...

प्रकृति, वन्यजीव एवं पुरातत्व का धनी प्रतापगढ

प्रतापगढ़ अरावली पर्वतमाओं एवं मालवा के पठार के संधि स्थल पर स्थित प्राकृतिक एवं पुरातत्व संपदा का धनी, आदिवासी संस्कृति का परिवेश एवं वन्य जीवन की विशेषताओं वाला जिला हैै। प्रतापगढ़ 26 जनवरी 2008 को चित्तौड़ड़गढ़, उदयपुर एवं बांसवाड़ा…
Read More...

पहाड़ियों का नगर डूंगरपुर

चारों और अरावालियों की पर्वत मालाओं के बीच अवस्थित प्राकृतिक संपदा का धनी डूंगरपुर जिले की विशेषता है यहां का आदिवासी जन-जीवन। बताया जाता है कि रावल वीर सिंह ने 1282 ई. में भील सरदार डूंगरिया को हरा कर डूंगरपुर की स्थापना की थी। भील सरदार…
Read More...