Browsing Category

संस्कृति एवं विरासत

देश और दुनिया पर मंडराया आर्थिक मंदी का खतरा

विश्व के कई देशों में इस समय आर्थिक मंदी का खतरा मंडरा रहा है और इसके संकेत भी साफ़ नजर आने लगे हैं। देश और दुनिया में अर्थिक मंदी को लेकर एक बार चर्चा तेज है।अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने दुनिया पर बढ़ते मंदी के जोखिम को लेकर चेतावनी दी…
Read More...

मुंबई में नीता अंबानी के नाम से खुलेगा भारत का पहला बहु-कला सांस्कृतिक केंद्र

•     ईशा अंबानी ने इसे अपनी मां को समर्पित किया •     ‘द ग्रैंड थिएटर’ में 2 हजार दर्शक बैठ सकेंगे •     16 हजार वर्गफुट का होगा आर्ट हाउस मुंबई(चलते फिरते ब्यूरो) ।ईशा अंबानी ने आज मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में एक…
Read More...

रूचि अग्रवाल की पेंटिंग की प्रदर्शनी “दिव्या”का उद्धघाटन डॉ हर्षवर्धन ने किया

नई दिल्ली(चलते फिरते ब्यूरो)।दिल्ली की सांस्कृतिक गतिविधियों के केंद्र इंडिया हैबिटैट सेंटर के ओपन पाम कोर्ट में रूचि अग्रवाल की पेंटिंग की प्रदर्शनी "दिव्या" 30 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक आयोजित की गई है जिसका आज उद्धघाटन पूर्व केंद्रीयमंत्री…
Read More...

माता अमृतानंदमयी देवी से मिलने पहुंचे सरसंघचालक

केरल(चलते फिरते ब्यूरो)।आरएसएस के सरसंघचालक डॉ मोहन भागवत ने कहा कि माता अमृतानंदमयी देवी हमेशा प्रेरणास्रोत हैं। सरसंघचालक मज़्था अमृतानंदमयीदेवी अमृतपुरी आश्रम, कोल्लम से मिलने के बाद बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि, हमारी महान परंपरा और…
Read More...

भारत को श्रेष्ठ बनाते वैदिक संस्कृति और वैज्ञानिक दृष्टिकोण

भारत का सांस्कृतिक, सनातनी, वैदिक इतिहास सदैव गौरवपूर्ण रहा है। वेदों, शास्त्रों ,पुराणों और सनातन संस्कृति एवं संस्कार में इतनी शक्ति है कि भारतीय संस्कृति अनंत काल तक कभी नष्ट नहीं हो सकती है। भारतीय संस्कृति का लचीलापन एवं व्यापक…
Read More...

“तुलसी व उनका साहित्य भारतीय जीवन पद्धति की आधारशिला” पर तुलसी विमर्श एवं पुष्पांजलि कार्यक्रम

कोटा (चलते फिरते ब्यूरो) ।आजादी का अमृत महोत्सव श्रंखला के अंतर्गत श्रावण शुक्ल सप्तमी तिथि 4 अगस्त गुरुवार को तुलसी जयंती के अवसर पर राजकीय सार्वजनिक मण्डल पुस्तकालय कोटा में “तुलसी व उनका साहित्य भारतीय जीवन पद्धति की आधारशिला” थीम पर…
Read More...

256 फीट ऊंची चंबल माता की प्रतिमा की पादुका की पूजा अर्चना कर स्थापना प्रारम्भ

 डॉ.प्रभात कुमार सिंघल कोटा।  कोटा में एक हजार करोड़ रुपए की लागत से चंबल नदी के किनारे  निर्माणाधीन विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल चंबल रिवर फ्रंट पर स्थापित होने वाली चंबल माता की 256 फीट ऊंची चंबल माता की प्रतिमा स्थापना की पादुका पूजा…
Read More...

पति के अपमान से आहत होकर जहां यज्ञ कुंड में कूद पड़ी थी सती

अनादि काल से शक्ति उपासना की पुण्य भूमि बिहार के तीन शक्ति पीठों (गया सर्वमंगला, छिन्न मस्तिका, हजारीबाग, झारखंड तथा अम्बिका भवानी आमी दिघवारा सारण) में मूर्धन्य आमी वाली अम्बिका भवानी के सच्चे दरबार से कोई खाली हाथ नहीं लौटता। चाहे…
Read More...

विश्व धरोहर में शामिल हुआ तेलंगाना का रुद्रेश्‍वर मंदिर

डॉ.प्रभात कुमार सिंघल,कोटा हैदराबाद। तेलंगाना के काकतीय रुद्रेश्‍वर मंदिर को विश्‍व धरोहर में शामिल किया गया है। यूनेस्‍को की वर्ल्‍ड हेरिटेज साइट ने इसे विश्‍व धरोहर के तौर पर जगह दी है। करीब 800 साल पुराने इस मंदिर को रामप्‍पा मंदिर के…
Read More...

आधुनिक असम के निर्माता गोपीनाथ बोरदोलोई

असम, भारत के उत्तरपूर्व का एक राज्य है। प्राकृतिक सुंदरता,जैव-विविधता और चाय के बागान के लिए सुविख्यात है। इस राज्य को प्रौद्योगिकी, शिक्षा और अधोसंरचना की दृष्टि से उन्नत बनाने का श्रेय गोपीनाथ बोरदोलोई को जाता है। उन्हें आधुनिक असम का…
Read More...