Browsing Category

पर्व व त्यौहार

कार्तिक पूर्णिमा का महत्व एवं केशवराय पाटन का ऐतिहासिक कार्तिक मेला

भारत देश तीन-त्यौहारों, मेलों, उत्सवों एवं विभिन्न पर्वों का देश है। यहां पर विभिन्न धर्मों के लोग निवास करते हैं और विभिन्न प्रकार के धार्मिक एवं सामाजिक त्यौहार मनाये जाने की परम्परा रही है। सभी अपने-अपने पर्वों को धार्मिक परम्परा के…
Read More...

गाय -बछड़ों की पूजा का पावन त्योहार “गोपाष्टमी”

देश में हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को गोपाष्टी का त्योहार मनाए जाने की परंपरा है। बताया जाता है कि भगवान श्री कृष्ण ने गोपाष्टमी पर ही गौ-चारण यानी गायों को चराना शुरू किया था। चूंकि श्रीकृष्ण स्वंय गायों की सेवा…
Read More...

दीपावली पर सामाजिक उद्यमी संजय शेरपुरिया ने गाजीपुर जिले के पशुपालकों को दिया बड़ा तोहफा

गाजीपुर ।नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट (एन.डी.आर.आई) और पूर्वांचल के नामांकित संस्थान, युथ रूरल एंटर प्रेन्योर फाउंडेशन के बीच, सरदार पटेल जन्मजयंती के शुभ दिन पर एक एम.ओ.यू (करार) साइन हुआ । इस करार के मुताबिक गाजीपुर के पशुपालकों को अब…
Read More...

दिल्ली सरकार द्वारा यमुना में छठ पूजा अर्चना की मनाही से पूर्वाचंलवासियों में भारी रोष -कांग्रेस

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि छठ महापर्व पर यमुना किनारे घाटों पर छठ व्रतियों को पूजा अर्चना की सरकार द्वारा पूरी तरह इजाज़त नही दिए जाने के कारण पूर्वांचलवासी छठ पूजा कहां करें? इस सवाल के साथ…
Read More...

पूर्वांचल मोर्चा ने छठ पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिए उपराज्यपाल का जताया आभार

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश पूर्वांचल मोर्चा द्वारा आज छठ पूजा की तैयारियों को लेकर छठ समितियों के प्रमुखों की बैठक प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई जिसमें केजरीवाल सरकार के छठ पूजा पर लगाए गए प्रतिबंध को दिल्ली के उपराज्यपाल वी…
Read More...

सृष्टि के अंतिम आराध्य देव भगवान श्री चित्रगुप्तजी की पूजा धूमधाम से संपन्न

पटना(राकेश रमण)।आज पटना सहित तमाम क्षेत्रों में कलम-दवात के देवता भगवान श्री चित्रगुप्त की पूजा धूमधाम से मनाई गई।जगतपिता ब्रम्हाजी के दिव्यांश,ज्ञान के प्रदाता और प्रत्येक मानव जाती के कर्मों का लेखा-जोखा रखने वाले लेखनी के आराध्य देव…
Read More...

छठ पूजा और भारतीय संस्कृति

"भारत कोई भूमि का टुकड़ा नहीं है, यह जीता जागता राष्ट्रपुरुष है । ये वंदन की धरती है, ये अभिनन्दन की भूमि है । ये अर्पण की भूमि है ये तर्पण की भूमि है। इसकी नदी-नदी हमारे लिए गंगा है, इसका कंकर-कंकर हमारे लिए शंकर है। परम श्रद्धेय…
Read More...

भाई बहन के प्यार का प्रतीक है भाई दूज

दीपावली के पांच दिवसीय महोत्सव का समापन भाई दूज के दिन होता है। त्योहारों की श्रंखला में दिवाली पर्वों का समापन भाई दूज के दिन होता है। भाई दूज को यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू धर्म में भाई दूज के पर्व का विशेष महत्व है।…
Read More...

भारत विश्व के कल्याण की बात करता है -उपराष्ट्रपति धनखड़

 नई दिल्ली ।सशक्त, समृद्ध और स्वर्णिम भारत विषय पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति धनखड़ ने कहा कि भारत ही एकमात्र ऐसा देश है, जो विश्व के कल्याण की बात कर रहा है। भारत विश्वगुरु था और फिर से एक दिन निश्चित रूप से विश्व…
Read More...