प्रदेश कार्यालय में आयोजित वर्चुअल रैली को स्मृति ईरानी, श्याम जाजू एवं आदेश गुप्ता ने सम्बोधित किया

दिल्ली के मुख्यमंत्री जनता को झूठा दिलासा देते आ रहे हैं कि वो हर परिस्थिति के लिए तैयार है-श्याम जाजू

नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा कार्यालय से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिल्ली जन-संवाद रैली को संबोधित किया और मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष की तमाम उपलब्धियों की जानकारी दी। इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली प्रभारी  श्याम जाजू व दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली के लोगों को संबोधित किया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली भाजपा कार्यालय में उपस्थित पार्टी पदाधिकारियों को यह शपथ दिलाई कि वे स्थानीय उत्पादों को खरीदेंगे और उसका प्रचार प्रसार करेंगे और कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए सामाजिक जागरूकता, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता के अभियान को आगे बढ़ाएंगे। इस अवसर पर दिल्ली के सह प्रभारी  तरुण चुघ व अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री  कुलजीत सिंह चहल ने किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केंद्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन, पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल, नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, राष्ट्रीय प्रवक्ता व सांसद  मीनाक्षी लेखी, दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष  मनोज तिवारी, सांसद  रमेश बिधूड़ी,  हंसराज हंस , प्रवेश साहिब सिंह,  गौतम गंभीर, दिल्ली भाजपा पूर्व अध्यक्ष  विजेंद्र गुप्ता, संगठन महामंत्री  सिद्धार्थन व दिल्ली के विधायक भी इस रैली से जुड़े थे। प्रदेश कार्यालय में प्रदेश महामंत्री  राजेश भाटिया, प्रदेश पदाधिकारी, मोर्चा अध्यक्ष, महापौर एवं निगम नेता उपस्थित थे।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े दिल्ली के लोगों को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि इस रैली के माध्यम से दिल्ली के भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन का विशेष अभिनंदन करना चाहती हूं जिन्होंने माननीय मोदी जी के नेतृत्व में राष्ट्र की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को सशक्त किया है। हमारे संगठन के नेताओं की खासियत है कि संघर्षरत होते हुए भी कार्यकर्ताओं को अपने मार्गदर्शन से इतना निर्भीक कर देते हैं कि वह कार्यकर्ता संगठन के संस्कारों का प्रतिबिंब बनकर जनता की आवाज को बुलंद करता है और उनकी सेवा करता है।
उन्होंने  कहा कि एक ओर दिल्ली के मुख्यमंत्री अपनी चारदीवारी से बाहर नहीं निकल रहे हैं वहीं दूसरी ओर कर्मठता का परिचय देते और अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए दिल्ली के सांसद और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री दिल्ली के अस्पतालों, क्वारंटीन सेंटरों, कोविड-19 हेल्थ केयर का दौरा कर रहे हैं। माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के नेतृत्व में दिल्ली भाजपा के कार्यकर्ताओं ने  दिल्ली के करोड़ों गरीब व जरूरतमंद लोगों तक भोजन व राशन पहुंचाने का काम किया। आज दिल्ली में जब निगमबोध घाट पर पार्थिव शरीरों के लिए लंबी कतारें देखने को मिल रही हैं तो मन विचलित होता है। इस रैली के माध्यम से मैं कोविड-19 के कारण मृत्यु को प्राप्त हुए दिवंगत आत्माओं के प्रति संवेदना व्यक्त करती हूं और बीमार लोगों के जल्द ही स्वस्थ होने की कामना करती हूं। उन्होंने कहा कि अपनी जान की परवाह किए बगैर कोरोना काल में काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मी, पुलिस, पैरामिलिट्री फोर्स, सफाई कर्मी एवं अन्य कोरोना वॉरियर्स सेवा कार्य में लगे हैं उन्हें मेरा नमन है। दिल्ली के लोगों को मैं आश्वस्त करना चाहूंगी कि दिल्ली भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता जरूरत पड़ने पर आपकी सेवा के लिए उपस्थित होगा। जब पूरा विश्व वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ रहा है, इस कठिन समय में भी मोदी जी के कुशल नेतृत्व में सरकार ने दूरदर्शिता का परिचय देते हुए देश की जनता में विश्वास जगाया कि एकजुटता के साथ इस महामारी से जीत सकते हैं। इसी एकजुटता का परिचय देते हुए मोदी जी के आह्वान पर बिना किसी प्रशासनिक व्यवस्था के देश के सभी नागरिकों ने जनता कर्फ्यू का पालन किया। लॉक डाउन की घोषणा के साथ ही आर्थिक सहायता के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत मोदी सरकार ने 1.70 लाख करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा की। देश में कोई भी भूखा ना रहे इसी मंशा के साथ मोदी जी ने 80 करोड़ गरीबों व जरूरतमंद को 3 महीने के लिए मुफ्त राशन उपलब्ध करवाया, 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में 3 महीनों तक हर माह 500 रुपए, 3 करोड़ गरीब वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं, दिव्यांग जनों को 1000 रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की जा रही है। देश में मोदी जी की सरकार ने सफलतम 6 वर्ष पूरे कर लिए हैं। 2014 में श्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हुए कहा था कि यह सरकार गरीब कल्याण एवं विकास को समर्पित सरकार होगी। 2014-2019 का कार्यकाल देश एवं जनता की आवश्यकताओं की पूर्ति का काल था। मोदी सरकार देश के करोड़ों लोगों की आकांक्षाओं पर पूरी तरह से खरी उतरी है। 2014 तक देश के 20,000 गांवों को 65 साल की आजादी के बाद बिजली नहीं मिली थी लेकिन मोदी सरकार ने उन गांव तक बिजली की आपूर्ति करते हुए देश के 2.5 करोड़ घरों को रौशन करने का काम पहले कार्यकाल में ही पूरा किया। जन धन योजना के तहत लगभग 38.89 करोड लोगों के जीरो बैलेंस के साथ बैंक में खाते खुलवाए गए, जिससे कि सरकार द्वारा दिया गया पैसा सीधे उन खातों में जा सके एवं भ्रष्टाचार पर लगाम लग सके। कांग्रेस ने इस फैसले को लेकर उपहास उड़ाया और कहा कि खाते खुलवाने से क्या होगा उन्हें मैं कहना चाहूंगी कि पूछिए उन 20 करोड़ गरीब महिलाओं से जिन्हें इन 2 महीनों में 20 हजार करोड़ रुपए सीधे उनके खाते में मिले हैं। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की सरकार पर देश के नागरिकों का विश्वास बढ़ा है।
उन्होंने  मोदी सरकार की गरीब कल्याण योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि उज्जवला योजना के अंतर्गत 8 करोड़ माताओं-बहनों को गैस सिलेंडर दिए गए जिससे धुआं मुक्त रसोई का सपना पूरा हुआ। 10 करोड़ घरों में शौचालय बनवाए गए और खुले में शौच जाने से मुक्ति दिलवाई। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत देश के 1 करोड़ लोग लाभान्वित हो चुके हैं। अपने लक्ष्य से कहीं आगे जाकर मोदी सरकार अभी तक 2.5 करोड़ से भी ज्यादा लोगों को अपने घर का सुख दे चुकी है। दिल्ली की 1731 अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित कर 40 लाख से भी ज्यादा लोगों को मालिकाना हक देने का काम किया। पहले कार्यकाल में ऐसी 100 से अधिक योजनाएं गरीब उत्थान के लिए प्रारंभ की गई जिसने मोदी जी के कथन को मूर्त रूप दिया कि यह सरकार गरीबों को समर्पित सरकार है। इस कार्यकाल के दौरान हमारी रक्षा नीति को वैश्विक स्वीकृति मिली और भारत के मान सम्मान को भी वैश्विक स्तर पर उच्चतम पायदान मिला।
 मई 2019 में देश की जनता ने मोदी सरकार को पुनः अपना आशीर्वाद दिया और दूसरे कार्यकाल का अवसर दिया। दिल्ली की जनता ने भी जनादेश के साथ भाजपा के ही सातों सांसदों को चुना। दूसरे कार्यकाल में ऐसे ऐतिहासिक फैसले लिए गए जो देश की आजादी के समय से ही लंबित थे। मोदी जी के नेतृत्व में अनुच्छेद 370 एवं 35ए को हटाया गया और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना। मुस्लिम महिलाओं को सम्मान दिलाने के लिए तीन तलाक की कुप्रथा को खत्म किया गया। करोड़ों हिंदुओं की आस्था के प्रतीक भगवान राम के जन्म स्थल अयोध्या में राम मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त किया और अब मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ हो चुका है। नागरिक संशोधन अधिनियम पास करके शरणार्थियों को भी भारत की नागरिकता दिलाने का प्रावधान किया गया। जल-शक्ति मंत्रालय का गठन कर जल जीवन मिशन के तहत 25 करोड़ घरों में पाइप के माध्यम से नलों से पीने का पानी पहुंचाने का संकल्प लिया गया है जिस पर काम शुरू हो चुका है। मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष में ही  9.5 करोड़ किसानों को 72 हजार करोड़ रुपए सीधा उनके बैंक खातों में डलवाए। अब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 16.5 करोड किसानों को प्रति वर्ष 6000 रूपये उनके खातों में दिए जाएंगे।  इस कठिन समय में भी भारत को आत्मनिर्भर भारत बनाने की ओर कदम उठाते हुए मोदी सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा की जिससे मजदूर, रेहड़ी-पटरी वाले, छोटे कारोबारी सुक्ष्म एवं लघु उद्योग एमएसएमई एवं अन्य वर्गों को लाभ मिलेगा। मोदी सरकार ने कोरोना काल में विदेशों में फंसे 72500 भारतीय नागरिकों को अपने देश वापस लाने का काम किया। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के माध्यम से 52 लाख प्रवासी मजदूर भाई-बहनों को उनके राज्य पहुंचाने का काम किया। ट्रेन किराए का 85 प्रतिशत खर्चा भी केंद्र की मोदी सरकार ने उठाया। मोदी सरकार के कुशल प्रशासनिक व्यवस्था के कारण भारत में कोरोना मृत्यु दर 2.87 प्रतिशत है जो दुनिया में सबसे कम है, वहीं ठीक होने वाले का दर भी 42 प्रतिशत है जो कि अन्य विकसित देशों के मुकाबले बहुत अच्छी है।
इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि संवाद संगठन की शक्ति है जिसके मद्देनजर कोरोना काल में भी भाजपा ने लोगों से जुड़ने के लिए वर्चुअल रैली को आयोजित किया है। ऐसे संवेदनशील समय में भी केजरीवाल सरकार टेस्टिंग, मौत, एक्टिव मामलों के आंकड़ों को लेकर झूठ बोलती आई है। आंकड़ों में हेराफेरी करने के लिए केजरीवाल सरकार ने कोरोना टेस्टिंग पर पाबंदी लगा दी और लोगों को मरने पर मजबूर कर दिया। दिल्ली के उपराज्यपाल को इस आदेश को पलटना पड़ा। दिल्ली हाई कोर्ट के बाद माननीय सुप्रीम कोर्ट को भी दिल्ली की बदतर स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर संज्ञान लेना पड़ा। आज दिल्ली के हालात यह है कि कोरोना वॉरियर्स को भी संक्रमित होने पर अपने इलाज के लिए दर-दर भटकना पड़ता है। बाकी सभी राज्यों में रिकवरी रेट लगभग 45 से 50 प्रतिशत है जबकि दिल्ली में यहां मात्र 33 प्रतिशत है।
वर्चुअल रैली से जुड़ने के लिए लोगों का धन्यवाद करते हो दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता ने कहा कि कोरोना काल को देखते हुए वर्चुअल रैली भारतीय राजनीति का सबसे अनूठा प्रयोग है, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए लोगों तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। इस रैली से दिल्ली में करीब 3000 से ज्यादा वर्चुअल पॉइंट से लाखों लोग जुड़े हैं। पार्टी के अलावा कई लोग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जन-संवाद रैली को देख रहे हैं और उसे साझा भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब से देश और दिल्ली में कोरोना का संकट आया है तब से निरंतर भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता जन सेवा कार्य में लगा हुआ है। एकात्म मानववाद के साथ काम करने वाली भारतीय जनता पार्टी का लक्ष्य कि वह समाज के अंतिम व्यक्ति तक की सेवा करें। राजनीति से ऊपर उठकर दिल्ली भाजपा ने समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए बिना किसी सरकारी मदद की दिल्ली के लोगों की सहायता की।  समय रहते दिल्ली सरकार ने कोविड-19 संक्रमित मरीजों की टेस्टिंग और ट्रेसिंग नहीं की और अब बढ़ते मामले के साथ ही टेस्टिंग को भी कम कर दिया है। अस्पतालों के जो दृश्य सामने आ रहे हैं वह इंसानियत को शर्मसार करने वाले हैं। कोविड-19 के मरीज लाशों के बीच रहकर इलाज करवाने को मजबूर है और दिल्ली के मुख्यमंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए झूठे और खोखले दावे करने में व्यस्त हैं। इस संकट में भारतीय जनता पार्टी दिल्ली वालों के साथ खड़ी है। उन्होंने बताया कि दिल्ली भाजपा द्वारा बड़े स्तर पर दिल्ली वालों को फेस कवर, सैनिटाइजर और आयुर्वेदिक काढ़ा की बोतल बांटी जाएगी। 10 लाख बोतल बांटने का लक्ष्य है। इसके साथ ही डॉक्टरों की एक टीम बनाई जा रही है जो हेल्थ हेल्पडेस्क के तौर पर काम करेगी।
मोदी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए आदेश गुप्ता ने कहा कि केंद्र में भाजपा सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष में देश के सर्वांगीण विकास व जनता के हितों में कई ऐतिहासिक फैसले लिए। दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित कर केंद्र सरकार ने वहां रहने वाले 40 लाख से भी ज्यादा लोगों का अपना घर होने का सपना साकार किया। दिल्ली में प्रदूषण की समस्या दूर करने के लिए ईस्टर्न व वेस्टर्न पैरिफेरल एक्सप्रेस बनवाया, जहां झुग्गी वहीं मकान योजना के तहत 700 झुग्गी कॉलोनी को पक्का मकान और हाउसहोल्ड इंडस्ट्रीज को सीलिंग से राहत देने के लिए नए नियम बनाए गए, धौला कुलां फ्लाईओवर, द्वारका एक्सप्रेस का काम शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि हम सभी को मोदी जी के संकल्प दो गज की दूरी को सार्थक करना है ताकि कोरोना को हराया जा सके।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.