नई आबकारी नीति के खिलाफ महिला मोर्चा ने मनीष सिसोदिया के निवास पर किया प्रदर्शन

दिल्ली सरकार युवाओं की ज़िंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है-दिनेश प्रताप

@ chaltefirte.com                              नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा की सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के खिलाफ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रचंड रोष प्रदर्शन करते हुए कई महिलाओं ने गिरफ्तारी दी। हिरासत में ली गई महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं को मंदिर मार्ग से पुलिस ने तीन घंटे बाद रिहा किया। प्रदर्शन में प्रदेश महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह और प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन कुमार उपस्थित रहे।

प्रदेश महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि नई आबकारी नीति के पीछे केजरीवाल सरकार .युवाओं की ज़िंदगी से खिलवाड़ करना चाहती है और पैसा कमाने के चक्कर में दिल्ली को बर्बाद करने पर तुली है। शराब पीने पर जहां दिल्ली सरकार को रोक लगानी चाहिए वहीं उल्टा सरकार ही इसको और बढ़ावा दे रही है।

महिला मोर्चा की अध्यक्ष योगिता सिंह ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार को नई आबकारी नीति का सबसे ज्यादा असर महिलाओं पर ही पड़ेगा। जब रात तीन बजे तक शराब की दुकाने खुलेंगी और 21 साल के उम्र में ही बेटा हो या बेटी को शराब पीने की छूट होगी तो परिवार कैसे बचेगा? उन्होंने कहा कि महिलाओं पर अत्याचार बढ़ेंगे और सड़क पर दुर्घटनाएं भी बढ़ेंगी। आबकारी मंत्री मनीष सिसोदिया को अपने ही बच्चों की तरफ देखकर ही नई आबकारी नीति बनानी चाहिए। क्या वे अपने बच्चों को इक्कीस साल की उम्र में शराब पिने की छूट देंगे?

प्रदेश मीडिया प्रभारी नवीन कुमार ने कहा कि केजरीवाल दिल्ली के नलों में पीने का साफ पानी तो मुहैया करा नहीं पाये, लेकिन उनकी सरकार हर चौराहे पर शराब का ठेका खोलना चाहती है। एक तरफ आम आदमी पार्टी महिलाओं की हितैषी बनने का ढ़ोंग करती है और दूसरी तरफ उनके उत्पीड़न की सेज सजा रही है। केजरीवाल सरकार नई आबकारी नीति को तुरंत वापस लें। प्रदर्शन में महिला मोर्चा नेता अरुणा रावत, श्यामबाला, मोनिका पंत, फुलवंत कौर, पुष्पा राजपूत, रेणू सिंह, जिलाध्यक्ष दीपिका जैन, सारिका गुप्ता, कुसुम तोमर, ज्योत्सना सोलंकी, शोभा शुक्ला, अनिता शर्मा सहित सैकड़ों महिला कार्यकर्ता मौजूद थी।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.