राष्‍ट्रीय बालिका दिवस पर जेंडर चैपियंस व मेधावियों का होगा सम्‍मान

मिशन शक्ति के तीसरे चरण की हुई शुरूआत,आश्रयगृहों में आवासित महिलाओं व किशोरियों को मिलेगा रोजगार

@ chaltefirte.com                  लखनऊ।यूपी में महिलाओं को सशक्‍त व स्‍वावलंबी बनाने के उद्देश्‍य से प्रदेश में शुरू किए गए वृहद अभियान मिशन शक्ति से महिलाओं व बेटियों का मनोबल बढ़ रहा है। यूपी में मिशन शक्ति के तीसरे चरण की थीम महिलाओं व बालिकाओं के अधिकारों, स्‍वावलंबन व सम्‍मान पर आधारित होगी। महिला कल्‍याण विभाग और बाल विकास सेवा एवं पुष्‍टाहार विभाग के संयुक्‍त सहयोग से इस बार की थीम महिलाओं बच्‍चों के सम्‍मान व स्‍वावलंबन से जुड़ी हुई है। जिसके तहत प्रदेश की महिलाओं व बेटियों को उनसे जुड़े कानूनी अधिकारों के बारे में बताया जाएगा व उन्‍हें विधिक सहायता भी दिलाई जाएगी।
                   विभाग की ओर से प्रदेश की महिलाओं व बेटियों को कानूनी अधिकारों व अधिनियमों के बारे में जानकारी दी जाएगी। उनको बाल विवाह प्रतिषेद्ध अधिनियम, पीसीपीएनडीटी अधिनियम,  कार्यस्‍थल पर महिलाओं के यौन उत्‍पीड़न अधिनियम, दहेज और घरेलू हिंसा से जुड़े अधिनियम पर जागरूक किया जाएगा। इसके साथ ही जरूरतमंद महिलाओं व बेटियों को आवश्‍यकतानुसार इस अभियान के तहत विधि‍क परामर्श व सहायता दिलाई जाएगी।
*आश्रयगृहों में आवासित महिलाओं व किशोरियों को मिलेगा रोजगार*
उत्‍तर प्रदेश में महिला एंव बाल विकास विभाग के तहत संचालित गृहों में आवासित महिलाओं व किशोरियों के हुनर को निखारने व उनको रोजगार की मुख्‍यधारा से जोड़ने के लिए प्रत्‍येक जनपद में विशेष कार्यक्रमों का आयोजन 15 फरवरी तक किया जाएगा। प्रदेश के प्रत्‍येक जनपद के गृहों से 18 से 35 साल की उम्र की 100 महिलाओं व किशोरियों को चिन्हित किया जाएगा। इन महिलाओं व किशोरियों को उनकी रूचि, शिक्षा, कौशल व अनुभव के आधार पर उद्योग व उपक्रमों से जोड़ रोजगार दिला उनको आत्‍मनिर्भर बनाया जाएगा। प्रत्‍येक जनपद में जिला प्रोबेशन अधिकारी व जिला अधिकारी 15 फरवरी तक इस कार्यक्रम का संचालन कराएंगें। इसके साथ ही इन महिलाओं व किशोरियों को योगी सरकार की ओर से विशेष प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
*जेंडर चैपियंस व मेधावियों का होगा सम्‍मान*
राष्‍ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर 24 जनवरी को विशेष सप्‍ताह के तहत प्रदेश भर से चयनित जेंडर चैपियंस व मेधावी छात्राओं को सम्‍मानित किया जाएगा। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत जेंडर चैपियंस व शिक्षा विभाग के समन्‍वय से मेधावियों को चिन्हित किया जाएगा। जनपदीय सतर पर कार्यक्रम का आयोजन कर जेंडर चैपियंस व मेधावी छात्राओं को नकद पुरस्‍कार वितरण किया जाएगा। राज्‍य बोर्ड से 10वीं और 12वीं में जनपद में प्रथम 10 स्‍थानों पर परीक्षा उर्त्‍तीण करने वाली 10-10 शीर्ष मेधावी छात्राओं को 5,000 हजार रुपए का नकद पुरस्‍कार दिया जाएगा वहीं राज्‍य बोर्ड से 12वीं कक्षा में जपनद में प्रथम स्‍थान पर परीक्षा उर्त्‍तीण करने वाली छात्राओं को 20 हजार  रुपए की नकद राशि से पुरस्‍कृत किया जाएगा। इसके साथ ही जेंडर चैंपियंस, खेल व कलाओं मे उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन करने वाली पांच महिलाओं और पांच बालिकाओं को भी नकद पुरस्‍कार दिया जाएगा।
Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.