टीएमयू की तीन छात्राओं को जारो ने दी ख़ुशी की सौगात

@ chaltefirte.com    मुरादाबाद। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एंड कम्प्यूटिंग साइंसेज-एफओईसीएस की तीन छात्राओं ने अपने अंतिम वर्ष में जॉब हासिल कर ली है। जारो एजुकेशन में चयनित ये तीनों छात्राएं फरवरी में ज्वाइन करेंगी। उल्लेखनीय है, जारो एजुकेशन भी ऑनलाइन एजुकेशन का चर्चित प्लेटफार्म है। इन स्टुडेंट्स के सलेक्शन से एफओईसीएस के निदेशक प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी ख़ुशी से गदगद हैं। वह बताते हैं, इन छात्राओं का सलेक्शन छह-छह लाख के सालाना पैकेज पर हुआ है। कोविड-19 के दौरान दुनिया में जहाँ नौकरियों का संकट है, वहीं हमारी यूनिवर्सिटी की इन छात्राओं को फाइनल ईयर में जॉब मिलना बड़ी उपलब्धि है।

बी.टेक, सीएस-फाइनल ईयर इंदौर की प्रशंसा जैन कहती हैं, पीछे मुड़कर तीन साल का सफर देखती हूं तो लगता है, पहली मंजिल पा ली है। जारो एजुकेशन जैसी नामी कंपनी में एक अच्छे पैकेज के साथ चयन होना मेरे माता-पिता, शिक्षकों के संग-संग खुद के लिए भी गर्व की बात है l एमबीए करने का इरादा है, इसीलिए नॉन-आईटी की ओर जा रही हूँ। उम्मीद जताई, जारो एजुकेशन मेरे करियर के लिए मील का पत्थर साबित होगा। बीटेक की स्टडी के दौरान टेक्नोलॉजी का भरपूर ज्ञान प्राप्त किया है।

बीएससी ऑनर्स-सीएस अंतिम वर्ष की छात्रा रामपुर निवासी आयुषी सक्सेना कहती हैं, मेरे माता-पिता ने हमेशा मुझे सर्वश्रेष्ठ करने के लिए प्रेरित किया। साथ ही प्रिंसिपल, शिक्षकों आदि की इस सफलता में उल्लेखनीय भूमिका रही है। जारो एजुकेशन में सलेक्शन से मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है। स्टडी के दौरान संचार कौशल में भी सुधार हुआ है, क्योंकि कई कार्यक्रमों में एंकरिंग भी की है। रामपुर की बीसीए अंतिम वर्ष की अबीर मसरूर कहती हैं, जारो एजुकेशन प्लेटफार्म के जरिए मैं अपने सपनों को हकीकत में बदलना चाहती हूँ। मेरे इस सलेक्शन में सीटीएलडी विभाग की भी खासी भूमिका रही है। जारो में चयनित तीनों छात्राओं ने एफओईसीएस के निदेशक प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी का विशेष आभार व्यक्त किया है। चयन प्रक्रिया असिस्टेंट डायरेक्टर प्लेसमेंट विक्रम रैना की देखरेख में हुई। प्राचार्य प्रो. द्विवेदी ने चयनित इन तीनों छात्राओं को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.