उत्तर रेलवे के केन्द्रीय अस्पताल में एचआईएमएस प्रणाली स्थापित की गयी

नई दिल्ली। दस्तावेज़ों की प्रक्रिया को सरल बनाने और रोगियों को सुविधाजनक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए उत्तर रेलवे के केन्द्रीय अस्पताल, नई दिल्ली में एचआईएमएस प्रणाली स्थापित की गयी है। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष एवं सीईओ वी.के. यादव ने आज उत्तर रेलवे, केन्द्रीय अस्पतालए नई दिल्ली में इस एचआईएमएस प्रणाली का उदघाटन किया । इस अवसर पर उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक, आशुतोष गंगल वीडियो लिंक के माध्यम से जबकि उत्तर रेलवे केन्द्रीय अस्पताल के चिकित्सा निदेशक,एस.सी. खोरवाल, वरिष्ठ चिकित्सक एवं अनेक रेल अधिकारी भी मौजूद थे ।
इस नये सिस्टम के अंतर्गत UMID  कार्ड वाला रोगी को पंजीकरण डेस्क पर ही उसके कार्ड को स्कैन करके उसकी बीमारी के अनुरूप उनसे सम्बंधित डॉक्टर कोय विभागाध्यक्ष को भेजा जायेगा और उसके बाद मरीज को टोकन नंबर मिलेगा जिससे उन्हें पता चल जायेगा कि किस क्रमांक एवं कितने नंबर कमरे में उनका इलाज होगा।

यदि मरीज के पास UMID  कार्ड नहीं होने पर उन्हें वैकल्पिक कियोस्क पे जा कर अस्थायी आई डी  बनाने के बाद टोकन दी जाएगी।एक बार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के बाद उन्हें दुबारा रजिस्ट्रेशन नहीं करना होगा। इस प्रणाली के अंतर्गत डॉक्टर जांच के उपरांत इसकी रिपोर्ट कंप्यूटर में ही लिखेंगे और यदि जांच के बाद लैब से किसी भी जांच के लिए सीधे भेज दिया जायेगा जिससे मरीजों को राहत मिलना तय है। एचआईएमएस प्रणाली के तहत सम्पूर्ण चिकित्सीय कार्य मरीज के पंजीकरण से लेकर उनके जांच तथा दवाई मिलने तक का कार्य डिजिटल होगा जो समय की बचत के साथ साथ मरीजों के लिए राहतभरा होगा।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.