हैदराबाद चुनाव में ओवैसी का किला होगा ध्वस्त? रुझानों में बड़ा उलटफेर, भाजपा बहुमत के पार

हैदराबाद  हैदराबाद में नगर निगम के ये चुनाव हैं लेकिन इसके परिणामों पर पूरे देश की निगाहें हैं। हैदराबाद में निकाय चुनाव के वोटों को गिनती जारी है और सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद है। किसी भी तरह की कोई दिक्कत आए उसकी पूरी व्यवस्था की गई है। वैसे तो कुल 150 सीटें हैं जिसमें भारतीय जनता पार्टी ने कुल 149 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। 51 सीटों पर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी चुनाव लड़ रही है।
जबकि पूरी की पूरी डेढ़ सौ सीटों पर टीआरएस चुनावी मैदान में है। 146 सीटों पर कांग्रेस पार्टी चुनाव लड़ रही है। लेकिन इस चुनाव को हाईप्रोफाइल बना दिया है भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेताओं ने जिन्होंने बीते दिन गृह मंत्री अमित शाह रोड शो करते हैं बल्कि भाग्यलक्ष्मी मंदिर जाकर वहां पूजा-अर्चना करते हैं। जिसके जरिये एक बड़ा संदेश बीजेपी देती है कि अगर वो सत्ता में आई तो जैसे फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया उसी तर्ज पर हैदराबाद का नाम बदल दिया जाएगा। ये भाग्यनगर का नाम बीजेपी के भाग्य को कितना तब्दिल करता है ये देखना काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होगा। साल 2016 के चुनाव में 150 में से 99 सीटों पर टीआरएस ने जीत हासिल की थी। जबकि 46 सीटों पर एआईएमआईएम को जीत मिली थी। सिर्फ 3 सीटें बीजेपी को मिली थी और 2 सीटों से कांग्रेस को संतोष करना पड़ा था।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.