चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स की चीनी सामान बहिष्कार पर दी गई चुनौती को कैट ने स्वीकार किया

दिल्ली। कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चीन के समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स जिसे चीनी सरकार के मुखपत्र के नाम से भी जाना जाता है में आज प्रकाशित लेख जिसमें कहा गया है की ” चीनी उत्पादों के बहिष्कार करने की भारत की हैसियत नहीं है ” पर तीव्र प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा की कैट ने चीनी अखबार की चुनौती स्वीकार की है और देश के व्यापारी एवं नागरिक मिलकर इस बहिष्कार को सफल कर के दिखाएंगे ! कैट ने कहा की चीनी अख़बार ने हिंदुस्तान के स्वाभिमान को ललकारा है जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और चीनी अख़बार को इसका मुँह तोड़ जवाब दिया जाएगा ! कैट ने यह भी कहा की अब कैट का चीनी उत्पादों के बहिष्कार का राष्ट्रीय अभियान ” भारतीय सामान – हमारा अभियान” जो 10 जून से पूरे देश भर में शुरू हो रहा है को और अधिक तीव्रता के साथ देश भर में चलाया जाएगा !

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष  बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री  प्रवीन खंडेलवाल ने कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ” लोकल पर वोकल ” के सशक्त आवाहन को मिल रहे जबरदस्त समर्थन से चीन के लोग बौखला गए है और अब उसे भारत का रिटेल बाजार अपने हाथ से निकालता नजर आ रहा है और इसीलिए चीनी अखबार ने इस तरह की निरर्थक टिपण्णी की है जिसका माकूल जवाब देश के व्यापारी और नागरिक मिल कर देंगे !

कैट ने कहा की चीनी अख़बार ने प्रकाशित लेख में यह भी कहा की चीनी सामान का इस्तेमाल भारतीय लोगों की आदत में शामिल हो गया है और इसका बहिष्कार करना कतई संभव नहीं है ! ऐसा कह के चीनी अखबार ने भारत के व्यापारियों की शक्ति को नजरअंदाज किया है ! अखबार यह भूल गया है की हिंदुस्तानी जिसे चढ़ाना जानते हैं उसे उतारना भी उन्हें आता है और अब चीन सहित सारी दुनिया देखेगी किस प्रकार भारत में चीनी उत्पादों का बहिष्कार होता है और केवल डेढ़ वर्ष के समय में अर्थात दिस्मबर 2021 तक चीन से आयात का व्यापार 1 लाख करोड़ कैसे कम होता है।इस अभियान में भारतीय अर्थव्यवस्था के अन्य वर्ग, किसान, ट्रांसपोर्ट, लघु उद्योग, उद्योग, हॉकर्स, उपभोक्ता सहित अन्य स्वदेशी संगठनों के साथ बातचीत कर पूरे देश में अपने अभियान को चलाएगा ! इसी सन्दर्भ में कैट ने कल देश के सभी राज्यों के प्रमुख व्यापारी नेताओं की एक वीडियो कांफ्रेंस भी बुलाई हैं जिसमें ” भारतीय सामान-हमारा अभिमान” अभियान को देश भर में शीघ्र फैलाने पर रणनीति बनाई जायेगी !

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.