‘पाकिस्तान सिर्फ जिहाद ही नहीं, ड्रग्स का भी करता है निर्यात’, कोस्ट गार्ड ने जब्त किए एक क्विंटल हेरोइन

नई दिल्ली। पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। कभी आतंकियों के घुसपैठ की कोशिश तो कभी ड्रग्स तस्करी की। इसके लिए वे कभी एलओसी का सहारा लेते हैं तो कभी पानी के रास्ते एक असफल प्रयास करते हैं। भारतीय तटरक्षक बल ने एक ऑपरेशन के दौरान थूथुकुडी के दक्षिण में श्रीलंकाई नाव से 100 किलोग्राम हेरोइन सहित ड्रग्स जब्त किया है। इस मामले से परिचित एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है।
अधिकारी ने यह भी बताया कि एक पाकिस्तानी शिप से श्रीलंकाई पोत पर ड्रग्स रखे गए थे। इसे पश्चिमी देशों और ऑस्ट्रेलिया में भेजा जाना था। एक अधिकारी ने कहा, “पाकिस्तान न केवल जिहाद, बल्कि ड्रग्स भी निर्यात करता है, जिसका इस्तेमाल आतंकवाद को फंड करने के लिए किया जाता है।” एक अन्य अधिकारी ने बताया कि ICG शिप की कारर्रवाई के दौरान हेरोइन (100KG) के 99 पैकेट, सिंथेटिक ड्रग्स के 20 छोटे बक्से, पांच 9 मिमी की पिस्तौल, और एक Thuraya सेट पाया गया। ये सारे सामने एक खाली ईंधन टैंक के अंदर मिले।
इंटरसेप्टेड बोट के कप्तान सहित छह चालक दल के सदस्यों से पूछताछ की जा रही है एक अधिकारी ने कहा, “पूछताछ के दौरान, श्रीलंकाई नौसेना से एक संदेश भी मिला।” कथित तौर पर यह नाव श्रीलंका के पश्चिमी तट के एक शहर नेगेंबो के अलेंसु कुट्टीज सिन्हा दीप्ता सानी फर्नांडो का है।
ड्रग्स तस्करी का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी सीमा पर कई बार ड्रोन के सहारे तस्करी की नापाक कोशिश पाकिस्तान द्वारा की जाती रही है। वहीं, अगर आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिश की बात करें ते, यह सिलसिला वर्षों से चलता आ रहा है। सीजयफायर का उल्लंघन कर उन्हें भारत में प्रवेश करानी में दद दी जाती है। आपको बता दें कि पाकिस्तान ने हाल ही में भारत में आतंकवादियों के घुसपैठ की कोशिश की थी। हालांकि चारो आतंका बान टोल प्लाजा पर मुठभेड़ में ढेर कर दिए गए।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.