भ्रष्टाचार और घोटालों के बावजूद कई मायनों में सफल है आधुनिक भारत की गाथा: बराक ओबामा

वाशिंगटन पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि आधुनिक भारत को राजनीतिक दलों के भीतर कड़वाहट, विभिन्न सशस्त्र अलगाववादी आंदोलनों और भ्रष्टाचार और घोटालों के बावजूद कई मामलों में एक सक्सेस स्टोरी के रूप में गिना जा सकता है।
44 वीं अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपनी नई पुस्तक में कहा है कि 1990 के दशक में अधिक बाजार आधारित अर्थव्यवस्था में परिवर्तन ने भारतीयों की असाधारण उद्यमशीलता की प्रतिभाओं को उकसाया, जिससे विकास दर, एक संपन्न प्रौद्योगिकी क्षेत्र और एक निरंतर विस्तार करने वाले वर्ग का विकास हुआ।
अपनी पुस्तक “ए प्रॉमिस्ड लैंड” में, ओबामा ने 2008 के चुनाव अभियान से लेकर अपने पहले कार्यकाल के अंत तक की यात्रा के दौरान साहसी एबटाबाद (पाकिस्तान) छापे के बारे में लिखा है कि अल-कायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मार डाला। “ए प्रॉमिस्ड लैंड” दो नियोजित संस्करणों में से पहला है। मंगलवार को विश्व स्तर पर पहला भाग बुकस्टोर्स पर हिट हुआ।
राहुल गांधी को लेकर ओबामा ने क्या कहा है
हाल ही में न्यूयॉर्क टाइम्स ने ओबामा के संस्मरण ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ की समीक्षा की है। इसमें पूर्व राष्ट्रपति ने दुनियाभर के राजनीतिक नेताओं के अलावा अन्य विषयों पर भी बात की है। न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित समीक्षा के अनुसार, राहुल गांधी के बारे में ओबामा का कहना है कि ‘उनमें एक ऐसे ‘घबराए’ हुए और अनगढ़ छात्र के गुण हैं जिसने अपना पूरा पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है और वह अपने शिक्षक को प्रभावित करने की चाहत रखता है लेकिन उसमें ‘विषय’ में महारत हासिल करने की योग्यता या फिर जूनून की कमी है। संस्मरण में ओबामा ने राहुल की मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी जिक्र किया है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.