यूपी में फिर हैवानियत: उरई में बीमार मां को अस्पताल देखने जा रही 11वीं की छात्रा से गैंगरेप

उरई उत्तर प्रदेश के हाथरस के बाद अब उरई में भी हैवानियत की तस्वीर सामने आई है। यूपी के उरई में बीमार मां को देखने जा रही बेटी से दरिंदों ने दरिंदगी की है। दरअसल, बीमार मां को अस्पताल देखने जा रही नाबालिग छात्रा से बुधवार देर रात को दो युवकों ने वन विभाग के पीछे ले जाकर रेप किया। घटना की जानकारी पीड़ित परिवार ने गुरुवार देर रात कोतवाली जाकर पुलिस को दी। पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली और एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता ने आरोपी को पहचान लिया है जबकि दूसरे की तलाश में पुलिस की दबिश दे रही है।
शहर के एक मोहल्ले में रहने वाली कक्षा 11 की छात्रा की मां की बुधवार देर रात को तबीयत खराब होने पर पिता जिला अस्पताल दिखाने के लिए ले गए थे। अस्पताल गए मां-बाप को देखने के लिए रात करीब 12 बजे छात्रा पैदल ही घर से अस्पताल के लिए निकल पड़ी, देर होने पर शहीद भगत सिंह चौराहे से वह वापस घर लौटने लगी, तभी टाउन हॉल के पास अकेली छात्रा को देख दो युवक उसके पीछे लग गए और कुछ दूर जाकर दोनों ने उसे पकड़ लिया।
डरा-धमका कर उसे वन विभाग के पीछे ले गए जहां दोनों ने रेप किया, इसके बाद आरोपित छात्रा को डरा धमका कर भाग निकले। किसी तरह पीड़िता अपने घर पहुंची पर उस वक्त उसने किसी से कुछ न बताया। गुरुवार रात में छात्रा को परेशान देख जब मां ने पूछताछ की तब उसने अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। इस पर परिजन उसे लेकर कोतवाली पहुंचे। पुलिस ने पीड़िता को महिला अस्पताल मेडिकल के लिए भेज रिपोर्ट दर्ज की, पुलिस दूसरे आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।
वहीं एक अन्य घटना में कुंडा में बेटी संग घर लौट रही महिला से दुराचार किया गया। जब बेटी ने बचाने की कोशिश की तो दरिंदों ने उसकी पिटाई कर दी गई। मानिकपुर थाना क्षेत्र के चौकापारपुर गांव की रहने वाली एक विवाहिता ने सीओ को तहरीर दी है। आरोप है की बुधवार को वह अपने मायके गयासपुर कुंडा से बेटी संग घर आ रही थी। जैसे ही देर रात वह गांव के पास नहर पुलिया के पास पहुंची। बेटी सब्जी खरीदने लगी तो वह अकेले खड़ी थी। तभी गांव का ही युवक पहुंचा और उसे अकेली देख जबरन उसे नहर किनारे खींच ले गया और दुष्कर्म किया। शोर मचाया तो मुझे मारा पीटा, बेटी पहुंची तो उसे भी पीटा और जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकला। पीड़िता ने आरोपित के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। सीओ जितेन्द्र सिंह परिहार ने ऐसी किसी घटना की जानकारी से इंकार किया है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.