दिल्ली कैपिटल्स ने राजस्थान रॉयल्स को 13 रन से हराया, धवन और अय्यर चमके

दिल्ली कैपिटल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में बुधवार को यहां राजस्थान रॉयल्स को 13 रन से हराया। दिल्ली के लिए तुषार देशपांडे और एनरिच नोर्जे ने दो-दो विकेट लिये। बल्लेबाज शिखर धवन (57) और कप्तान श्रेयस अय्यर (53) की अर्धशतकीय पारियों के बाद आखिरी ओवरों में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से दिल्ली कैपिटल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में बुधवार को यहां राजस्थान रॉयल्स को 13 रन से हराया। इस जीत के साथ दिल्ली की टीम आठ मैचों में छह जीत के साथ तालिका में शीर्ष पर पहुंच गयी जबकि राजस्थान की टीम इतने ही मैच में तीन जीत और छह अंक के साथ सातवें नंबर पर है। दिल्ली कैपिटल्स ने धवन और अय्यर के बीच तीसरे विकेट के लिए 85 रन की साझेदारी के दम पर सात विकेट पर 161 रन बनाने के बाद राजस्थान को आठ विकेट पर 148 रन पर रोक दिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए बेन स्टोक्स और जोस बटलर ने दिल्ली को तेज शुरूआत दिलाई। दोनों ने कागिसो रबाडा के पहले ओवर में एक-एक चौके लगाकर अपने इरादे जाहिर कर दिये। बटलर पारी के तीसरे ओवर में एनरिच नोर्जे के खिलाफ आक्रामक रूख अपनाया और शुरुआती पांच गेंदों में एक छक्का और दो चौके लगाये लेकिन 155.4 किलोमीटर की रफ्तार से फेंकी गयी ओवर की आखिरी गेंद पर वह बोल्ड हो गये। कप्तान स्टीव स्मिथ एक बार फिर नाकाम रहे और चार गेंद में सिर्फ एक रन बनाकर अश्विन की गेंद पर उन्हें ही कैच थमा बैठे। इस दौरान पांचवें ओवर में क्षेत्ररक्षण के दौरान अय्यर का कंधा चोटिल हो गया जिसके बाद धवन ने कप्तानी का जिम्मा संभाला।
संजू सैमसन ने सातवें ओवर में अक्षर पटेल का स्वागत छक्का लगाकर किया। उन्होंने इस गेंदबाज के खिलाफ नौवें ओवर की आखिरी गेंद को भी स्टेडियम में भेजा। स्टोक्स और सैमसन की जोड़ी जब खतरनाक नजर आ रही थी तभी आईपीएल में पहला मैच खेल रहे देशपांडे ने 11वें ओवर की दूसरी गेंद पर स्टोक्स को आउट कर दिल्ली को बड़ी सफलता दिलाई। स्टोक्स ने 35 गेंद में 41 रन बनाये।उन्होंने तीसरे विकेट के लिए सैमसन के साथ 46 रन की साझेदारी की। अक्षर ने इसके बाद सैमसन को बोल्ड कर पवेलियन भेजा। लय हासिल करने की कोशिश कर रहे उथप्पा ने इसके बाद नोर्जे द्वारा फेंके गये 13वें ओवर में एक चौका और एक छक्का लगा कर जरूरी रनगति को कम किया। अगले ओवर में ही उनकी गलती का खामियाजा पिछले मैच के नायक रहे रियान पराग को भुगतना पड़ा जो एक रन बनाकर रन आउट हुए। शानदार लय में चल रहे राहुल तेवतिया को 15वें ओवर में जीवन दान मिला। देशपंडे की गेंद पर नोर्जे ने उनका कैच टपका दिया। राजस्थान को आखिरी तीन ओवर में जीत के लिए 29 रन चाहये थे। नोर्जे ने 18वें ओवर सिर्फ चार रन दिये और उथप्पा (32) को बोल्ड कर मैच का रूख दिल्ली की ओर मोड़ दिया। रबाडा ने 19वें ओवर में आर्चर को चलता किया। राजस्थान को आखिरी ओवर में तेवतिया से बड़े शॉट की उम्मीद थी लेकिन युवा गेंदबाजदेशपांडे ने उनकी इरादों पर पारी फेरकर दिल्ली को जीत दिला दी। दिल्ली के लिए देशपांडे और नोर्जे ने दो-दो जबकि अश्विन, रबाडा और अक्षर ने एक-एक विकेट लिये। इससे पहले टॉस जीत कर बल्लेबाजी के लिए उतरी दिल्ली कैपिटल्स को पारी की पहली ही गेंद में बड़ा झटका लगा। जोफ्रा आर्चर की गेंद पृथ्वी साव के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेते हुए विकेट से टकरा गयी। आर्चर ने पारी के तीसरे ओवर में अजिंक्य रहाणे को रोबिन उथप्पा के हाथों कैच कराकर आउट किया। रहाणे नौ गेंद में सिर्फ दो रन बना सके। इन शुरुआती झटकों का हालांकि दिल्ली के सलामी बल्लेबाज धवन पर कोई असर नहीं पड़ा।
उन्होंने पारी के चौथे ओवर में कार्तिक त्यागी की गेंद पर छक्का लगाकर अपना हाथ खोला। कप्तान श्रेयर अय्यर से भी उन्हें अच्छा साथ मिला और टीम ने पावर प्ले में दो विकेट पर 47 रन का अच्छा स्कोर कर लिया। धवन को 10वें ओवर में तेवतिया ने रन आउट करने का आसान मौका छोड़ दिया। उन्होंने 11वें ओवर की आखिरी गेंद पर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया। इसके बाद श्रेयस गोपाल के अगले ओवर की पहली गेंद पर पारी का दूसरा छक्का लगाया। इसी ओवर की चौथी गेंद पर रिवर्स स्वीप करने की कोशिश में धवन कार्तिक त्यागी को कैच थमा बैठे। धवन ने 33 गेंद की आक्रामक पारी में छह चौके और दो छक्के लगाये। उनके आउट होने के बाद अय्यर ने आक्रामक रूख अपनाया। अय्यर ने पारी के 15वें ओवर में जयदेव उनादकट की चौथी और छठी गेंद पर छक्का लगाकर 40 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि अगले ओवर में कार्तिक त्यागी की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में आर्चर को कैच थमा बैठे। अय्यर ने 43 गेंद की पारी में दो छक्के और तीन चौके लगाये। इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्कस स्टोइनिस (18) और एलेक्स कैरी (13) आखिरी ओवरों में तेजी से रन बनाने में नाकाम रहे। आर्चर ने चार ओवर में सिर्फ 19 रन देकर तीन विकेट लिये। उनादकट ने तीन ओवर में 32 रन देकर दो सफलता हासिल की। त्यागी और गोपाल को एक-एक विकेट मिला। राजस्थान के गेंदबाजों ने आखिरी के ओवरों में हालांकि शानदार वापसी की और अंतिम पांच ओवर में सिर्फ 32 रन दिये।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.