राजस्थान: चंबल नदी में 30 लोगों से भरी नाव पलटी, छह लोगों की मौत

जयपुर। राजस्थान में नदी पार करने के दौरान एक ही नाव पर पलटने से उसमें सवार 30 से ज्यादा डूब गए थे। इसमें से 24 लोगों को नदी से सुरक्षित निकला लिया गया है, जबकि 6 लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि ये सभी कमलेश्वर धाम जाने के लिए नाव में बैठकर चंबल नदी पार कर रहे थे।
बताया जा रहा है कि कलेक्टर एसपी मौके पर पहुंचे गए हैं। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है और गोताखोरों की मदद से शव निकाले जा रहे हैं। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने दुःख जताया है। वहीं लोकसभा सचिवालय कोटा जिला कार्यालय से घटना की जानकारी ले रहा है। UDH मंत्री शांति धारीवाल ने जिला कलेक्टर व एसपी को रेस्क्यू ऑपरेशन त्वरित रूप से चलाने का निर्देश दिया है।
इटावा शहर से जुड़े हुए खातोली क्षेत्र के पास एक नाव चंबल नदी में डूब गई, यह घटना तब घटी जब लोग नाव पर सवार होकर नदी पार कर रहे थे। नदी पार करते वक्त नाव में करीब 30 लोग सवार थे और साथ ही बाइक भी नदी पार ले जा रहे थे।
बताया जा रहा है कि नाव में करीब 14 बाइक भी थी जिन्हें नदी पार करवाने के लिए नाव में ही रखा था। घटना के तुरंत जानकारी मिलने के बाद आस पास मौजूद लोग ग्रामीणों को बचाने के लिए नदी पर पहुंचे। जानकारी अनुसार, यह हादसा गोठला कला के पास कमलेश्वर धाम जाते हुए हुआ।
आपको बता दें कि इस दौरान कई लोगों को बचा लिया गया है और घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुँच गए हैं। अब तक कि जानकारी के अनुसार, कमलेश्वर धाम जाने के लिए लगभग 30 लोग 14 बाइक के साथ नदी पार कर रहे थे।
इस दौरान नांव पर अधिक वजन होने के कारण नाव पलट गई। घटना चाणदा व गोठड़ा गांव के बीच की बताई जा रही है। जिसकी जानकारी मिलने पर इटावा से पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। इसमें छह लोगों की मौत हो गई है।
लोकसभा अध्यक्ष ने भी जिला प्रशासन से किया संपर्क
चंबल नदी में हुई घटना को लेकर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने जताई है साथ ही लोकसभा सचिवालय ने जिला प्रशासन से संपर्क साधा है। कोटा से SDRF की टीम मौके के लिए रवाना कर दी गई है. लोकसभा अध्यक्ष कार्यालय जिला प्रशासन से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.