कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीज़ों के लिए शुरू हुआ निःशुल्क फिजियोथेरेपी स्वास्थ्य शिविर

@ chaltefirte.com          पटना। विश्व फिजियोथेरेपी दिवस के अवसर आज पटना के साई हेल्थ केअर एंड वेलनेस सेंटर में कोरोना संक्रमण को मात दे चुके मरीज़ों के लिए 7 दिनों तक चलने वाली निःशुल्क फिजियोथेरेपी स्वास्थ्य शिविर की शुरुआत हुई। इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर डॉ सुमन, डॉ अशुतोष त्रिवेदी, डॉ अजय, रोटरी पटना ग्रेटर अध्यक्ष अंकिता सिंह,जदयू नेता ओमप्रकाश सिंह, रणजी खिलाड़ी प्रमोद, रोटरी के अन्य सदस्य और साई हेल्थ केअर का पूरा परिवार उपस्थित रहे। इस मौके पर आज कई लोगों को निःशुल्क फिजियोथेरेपी भी दी गयी।

इस मौके पर साई हेल्थ केअर एंड वेलनेस सेंटर के संस्थापक डॉ राजीव कुमार सिंह ने कहा, “इस कोरोना काल ने स्वास्थ्य के लिए बड़ी परेशानियां लाई है। कोरोना से उबर चुके लोग भी गम्भीर स्वास्थ समस्याओं से जूझ रहें हैं, उनके फेफड़े कमजोर होने की बात लगातर सामने आ रही है। इसके लिए हमारे टीम द्वारा उचित फिजियोथेरेपी दी जा रही है जो उन्हें इन परेशानियों को कम कर रही, लोगो को राहत दे रही। साथ ही लॉकडाउन में घर में बैठे रहने से भी शारीरिक स्थिलता बहुत बढ़ गई है जिससे नस और हड्डी सम्बन्धी परेशानियां बहुत बढ़ गई है, खास कर बुजुर्गो और बच्चो में परेशानी बहुत देखी जा रही है, इसके लिए हमारे एक्सपर्ट की टीम द्वारा पूरा एक रूटीन बनाया गया है, जिसमे फिजियोथेरेपी के मदद से लोगो को इन परेशानियों से उबरने में बहुत मदद मिल रही है।”

डॉ राजीव कुमार सिंह ने कहा कि फिजियोथेरेपी के जरिए ऑस्टिओअर्थराइटिस, स्पाइनल इंजरी जैसी जटिल बीमारियों का इलाज संभव है। इसका कोई साइड एफेक्ट भी नहीं होता है। आज पूरा विश्व कोरोना संक्रमण का शिकार है। ऐसे में फिजियोथेरेपी का महत्व कम नही हुआ है। फिजियोथेरेपी एक मॉर्डन चिकित्सा पद्धति है, जिसमें घुटनों, पीठ, कमर दर्द आदि कई शारीरिस समस्याओं से निपटने के लिए बिना दवा और सर्जरी किए इलाज किया जाता है। यह प्रशिक्षित फिजियोथेरेपिस्ट द्वारा किया जाता है। इसमें कई तरह के एक्सरसाइज के जरिए शरीर की मांसपेशियों को सही अनुपात में सक्रिय करने की कोशिश की जाती है।

 

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.