उत्तर रेलवे के दिल्ली मंडल द्वारा अगस्त में 1.88 मीट्रिक टन मालभाड़ा का लदान किया गया

नई दिल्ली।कोरोना महामारी से लड़ने में राष्ट्र को सहयोग प्रदान करने के उत्तर रेलवे लगातार कार्य कर रही है । उत्तर एवं उत्तर-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि मिशन मोड में कार्य करते हुए उत्तर रेलवे के दिल्ली मंडल ने महामारी के चलते रेलवे के काम में आने वाली विभिन्न चुनौतियों के बावजूद कुल मालभाड़ा लदान में नए मानक स्थापित किए हैं । उत्तर रेलवे के दिल्ली मंडल ने अगस्त, 2020 में 1.88 मीट्रिक टन मालभाड़ा का लदान किया जोकि पिछले वर्ष की इसी अवधि से 27.03% अधिक है और पिछले तीन वित्त वर्षों में इस माह का सर्वश्रेष्ठ लदान भी है ।

दिल्ली मंडल ने अगस्त 2020 में 0.81 मीट्रिक टन खाद्यान्न का लदान किया जोकि दूसरा सर्वाधिक खाद्यान्न लदान है और पिछले वर्ष की इसी अवधि से 138.24% अधिक है ।मंडल ने अगस्त, 2020 के दौरान कुल 207.42 करोड़ रूपये की माल आय अर्जित की जोकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में अर्जित 198.63 करोड़ रूपये से 4.43% अधिक है ।अप्रैल से अगस्त, 2020 के दौरान कुल माल आय 963.98 करोड़ रूपये तक पहुँच गयी जोकि पिछले वर्ष के 894.11 करोड़ रूपये से 7.81% अधिक है ।अन्य उत्पादों (आटोमोबाइल,आरएमसी, विविध) के लदान में दिल्ली मंडल ने अगस्त, 2019 की तुलना में 66.67% की वृद्धि दर्ज की । अगस्त 2020 में एनटीकेएम प्रति वैगन दिवस 13680 वैगन रहा जोकि पिछले वर्ष की इसी अवधि के 11341 से 18.23% अधिक है ।

दिल्ली मंडल पर समयपालनबद्धता 15.09% बढ़कर अगस्त 2020 में 98.48% हो गयी । यह पिछले वर्ष की इसी अवधि में 85.57% थी । इसके अतिरिक्त डीजल उपयोग में 10.46% और मालगाड़ियों की औसत गति सीमा में 104.19% का सुधार दर्ज किया गया ।

यह उल्लेख करना भी आवश्यक है कि मालभाडा संचलन को आकर्षक बनाने के लिए भारतीय रेलवे अनेक रियायतें/छूट प्रदान कर रही है । मालभाड़ा संचलन को व्यवस्थित किया जायेगा और मालभाड़ा यातायात और आय को बढ़ाते हुए पूरे देश में लागत प्रतिस्पर्धी बनाया जायेगा ।

उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली मंडल के बिजनेस डेवलपमैंट यूनिटों के प्रयासों से 21.08.2020 को एनएमजी रैकों में ऑटोमोबाइल के दो बिंदुओं वाले लदान को फ़रीदाबाद से दानापुर और चौखंडी के लिए शुरू किया गया है । मेरठ सिटी-सहारनपुर क्षेत्र से मिनी रैक में चीनी का लदान शुरू किया गया है । इसका पहला रैक दिनांक 23.08.2020 को दौराला से दानकुनी और दूसरा रैक 30.08.2020 को मुजफ्फरनगर से दानकुनी के लिए चलाया गया है । अपनी तरह की पहली व्यापार माला एक्सप्रेस रेलगाड़ियों की 3 सेवाएं अगस्त 2020 में दिल्ली किशनगंज से जिरानियां के लिए चलाई गयी ।उत्तर रेलवे अपने उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित, सुगम और बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है ।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.