कोरोना वायरस: 24 घंटे में पहली बार 10 लाख सैंपल की जांच, 21 दिन में रिकवरी डबल

नई दिल्ली। कोरोना जांच के मामले में देश ने एक अहम उपलब्धि हासिल कर ली है। पहली बार 24 घंटे में 10 लाख से अधिक सैंपल की जांच की गई है। मंत्रालय ने यह भी बताया है कि पिछले 21 दिनों में रिकवर हो चुके लोगों की संख्या दोगुनी हो चुकी है। देश में 74 पर्सेंट से अधिक मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार सुबह ट्वीट किया, ”टेस्टिंग के जरिए जल्दी पहचान, प्रभावी इलाज, निगरानी में होम आइसोलेशन और गुणवत्तापूर्ण मेडिकल केयर और श्रेणीबद्ध नए नीतिगत उपायों की वजह से 21 दिनों में रिकवरी में 100 पर्सेंट की वृद्धि हुई है।”
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 1 अगस्त को देश में कोरोना को मात दे चुके लोगों की कुल संख्या 10 लाख 94 हजार थी तो 10 अगस्त को यह संख्या बढ़कर 15 लाख 83 हजार हो गई, जबकि 21 अगस्त तक 21 लाख 58 हजार लोग संक्रमण को मात दे चुके हैं।
शुक्रवार को देश में रिकॉर्ड 62,282 कोरोना संक्रमित स्वस्थ हुए हैं, जिससे देश की राष्ट्रीय औसत कोरोना रिकवरी दर बढ़ कर 74 प्रतिशत के पार 74.30 प्रतिशत हो गई। देश में संक्रमण मुक्त हुए व्यक्तियों की कुल संख्या बढ़कर 21 लाख के पार 21,58,946 हो गई है। अब तक रोगमुक्त हुए व्यक्तियों और संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या के बीच का फासला बढ़कर 14,66,918 हो गया है। देश के 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशा में कोरोना रिकवरी दर 50 प्रतिशत से अधिक है।
कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण का पता लगाने के लिए देश में लगातार टेस्टिंग को बढ़ाया जा रहा है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक 20 अगस्त को देश भर में 8 लाख 5 हजार नमूनों की जांच की गई, जबकि अब प्रतिदिन 10 लाख टेस्टिंग की क्षमता हासिल कर ली गई है। अब तक देश में करीब 3 करोड़ 43 लाख सैंपल की जांच की जा चुकी है। देश में कोरोना परीक्षण लैब की संख्या बढ़कर 15 सौ से अधिक हो चुकी है।
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में प्रति दस लाख आबादी 140 से अधिक कोरोना जांच हो रहे हैं। गोवा में सर्वाधिक प्रति दस लाख आबादी 1,826 टेस्ट हो रहे हैं। ओडिशा में प्रति दस लाख आबादी 1,265, दिल्ली में 1,111, लद्दाख में 945, कनार्टक में 927, तमिलनाडु में 918, असम में 819, आंध्रप्रदेश में 769, हरियाणा में 752, उत्तर प्रदेश में 630, और गुजरात में 620 टेस्ट हो रहे हैं। देश में प्रति दस लाख आबादी औसतन 580 टेस्ट हो रहे हैं।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.