बम बनाने में माहिर गोपाल सैनी ने कोर्ट में किया सरेंडर

कानपुर। कानपुर के चर्चित बिकरू कांड के एक और आरोपित ने पुलिस की आंखों में धूल झोंकते हुए माती कोर्ट में सरेंडर कर दिया। कोर्ट ने सुनवाई करते हुए उसे जेल भेज दिया है। पहले सरेंडर कर चुके गोपाल सैनी रिश्ते में आरोपित का छोटा भाई है। वहीं सरेंडर करने के लिए 11 और लोगों ने माती कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया है।
सरेंडर करने वाला 25 हजार का इनामी गोविंद सैनी बिकरू में अपने घर में ही परचून की दुकान चलाता था। उसका घर प्रेम प्रकाश पाण्डेय के घर के पास ही है। पुलिस का दावा है कि गोविंद सैनी भी घटना में शामिल था। पुलिस जांच में इस तथ्य का भी खुलासा हुआ है कि जब सीओ प्रेम प्रकाश के घर में जान बचाने के लिए कूदे थे तो हमलावर गोविंद की छत से गोपाल सैनी की छत पर और वहां से प्रेम प्रकाश की छत पर पहुंचकर नीचे उतरे और उन्हें मौत के घाट उतार दिया था। गोविंद सैनी का नाम बाद में एफआईआर में बढ़ाया गया जिसके कारण उस पर 25 हजार का ही इनाम था।
पुलिस अलर्ट, कर रही निगरानी


गोविंद सैनी के सरेंडर करने के बाद पुलिस अलर्ट हो गई है। वह जेल में गोविंद का बयान दर्ज करेगी। जरूरत पड़ने पर उसे रिमांड पर लिया जाएगा। इसके साथ ही पुलिस बिकरू और आसपास के गांवों में एक बार फिर सक्रिय हो गई है। देर रात से गावों में छापेमारी शुरू कर दी गई है।
दरोगा और पूर्व एसओ की जमानत पर सुनवाई
मंगलवार और बुधवार को इस मामले में जेल गए पुलिस अफसरों की बेल पर सुनवाई होनी है। मंगलवार को पूर्व बीट इंचार्ज दरोगा केके शर्मा और बुधवार को पूर्व एसओ विनय तिवारी की अर्जी पर सुनवाई होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.