भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान का 73 साल की उम्र में निधन

कोरोना का चल रहा था इलाज

नयी दिल्ली। पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान का कोविड-19 संबंधित दिक्कतों के चलते रविवार को निधन हो गया। उनके भाई पुष्पेंद्र चौहान ने यह जानकारी दी। चौहान को करीब 36 घंटे से जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा हुआ था, वह 73 वर्ष के थे। भारत के लिये 40 टेस्ट खेलने वाले चौहान के परिवार में पत्नी और बेटा विनायक है। विनायक मेलबर्न से शाम तक यहां पहुंचेगा। पुष्पेंद्र ने पीटीआई से कहा, ‘‘मेरे बड़े भाई चेतन चौहान बीमारी से लड़ते हुए आज हमें छोड़कर चले गये। मैं उन सभी का शुक्रिया करना चाहूंगा जिन्होंने उनके ठीक होने के लिये प्रार्थना की। उनका बेटा विनायक किसी भी समय पहुंच जायेगा और फिर हम उनका अंतिम संस्कार करेंगे। ’’
चौहान को कोविड-19 पॉजिटिव पाये जाने के बाद 12 जुलाई को लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया था। किडनी संबंधित बीमारियों के कारण उनका स्वास्थ्य बिगड़ गया जिससे उन्हें गुरूग्राम के मेंदाता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। शुक्रवार रात को उनके कई महत्वपूर्ण अंगों ने काम करना बंद कर दिया और उन्हें वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया।