जो डेनली ने बताया क्यों उन्हें इंग्लैंड टीम से किया गया बाहर

लंदन । खराब प्रदर्शन के कारण इंग्लैंड की टेस्ट टीम से बाहर हुए बल्लेबाज जो डेनली ने कहा कि वो वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे और तीसरे टेस्ट से बाहर किए जाने के बाद काफी निराश थे, लेकिन उनका मानना है कि यह सही फैसला था क्योंकि वो मौके मिलने के बावजूद टॉप ऑर्डर में अपना स्थान पक्का नहीं कर पाए। पिछले साल डेब्यू करने वाले डेनली का 15 टेस्ट में औसत 29.53 है और वो अच्छी शुरुआत का फायदा उठाने में असफल रहे। उनका बेस्ट स्कोर 94 है जो उन्होंने 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था।
वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरुआती टेस्ट में उन्होंने महज 18 और 29 रन की पारी खेली। कप्तान जो रूट के अपने बच्चे के जन्म के बाद लौटने से वो आगे के मैचों में नहीं खेल सके। वो आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में पीठ में मांसपेशियों के खिंचाव के कारण नहीं खेल पाए। डेनली ने कहा, ‘मैं मैच खेल रहा था और बड़ी पारियां नहीं खेल पा रहा था। मुझे लगता है कि मुझे थोड़ा सा गेंदबाजों के ऊपर हावी होकर खेलना चाहिए था। बड़ी पारियां नहीं खेलने से मुझ पर काफी दबाव बन गया। लेकिन जब तक आप जान पाते, आप क्रीज से आउट होकर लौट आते।’
टेस्ट टीम से बाहर किए जाने के बाद उन्होंने कहा, ‘बिलकुल मैं बहुत निराश था। लेकिन यह सही फैसला था। मुझे बड़े स्कोर बनाने के मौके मिले और तब मैं देखता हूं तो यह सबसे ज्यादा निराशाजनक लगता है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं मौकों का फायदा नहीं उठा सका। मैं तीन या चार बड़े शतक नहीं बना सका और तीसरे स्थान को अपना नहीं बना सका। यह काफी निराशाजनक था।’