रील के साथ साथ रियल की स्टार हैं डॉक्टर ख्याति सिंह 

छपरा। भोजपुरी सिनेमा की चर्चित अभिनेत्री फिल्म निर्मात्री व सुपर मॉडल ख्याति सिंह रील ही नहीं रियल की भी सुपरस्टार है आज ख्याति सिंह का जन्मदिन है इस अवसर पर हम आपको बता रहे हैं उनके द्वारा किए जा रहे हैं अनूठे कार्यों की फेहरिस्त लेकर बैंड बाजा आजा, पवन राजा और बलमुआ तोहरे खातिर जैसी सुपर हिट भोजपुरी फिल्मों में अपने अभिनय प्रतिभा का जलवा दिखा चुकी फिल्म अभिनेत्री ख्याति सिंह कोरोना संकट के बीच महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र के लोगों के लिए रियल स्टार के रूप में कार्य करती नजर आई है।लगातार 100 दिनों से महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले तरैया मशरख बसंतपुर गोरियाकोठी महाराजगंज बनियापुर एकमा माझी इलाकों में इनके द्वारा बिना किसी शोर-शराबे के व्यापक पैमाने पर राहत और पुनर्वास कार्य चलाया जा रहा है ।गांव गांव में युवाओं की कमेटी बनाई गई है। जिसके माध्यम से जरूरतमंद लोगों को खाने-पीने की वस्तुएं दवाईयां व नगद राशि उपलब्ध करवाई गई है। ख्याति सिंह पूर्व केंद्रीय मंत्री मतंग सिंह की धर्मपत्नी है इनके पति का पैतृक गांव तरैया विधानसभा क्षेत्र के आकुचक में है यहां पर इस परिवार का अच्छा खासा प्रभाव है महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र को मॉडल क्षेत्र के रूप में विकसित करने को लेकर ख्याति कृत संकल्पित है सीधे लोगों से कनेक्ट है। कई सारी विकास परियोजनाओं को क्षेत्र में अपने दम पर चलाने को आतुर भी दिखती है। मढ़ौरा चीनी मिल के जीर्णोद्धार के लिए भी विगत एक वर्ष से युद्ध स्तर पर लगी हुई हैं ।कई सारे उद्योगपतियों से उन्होंने बात भी किया है पर राज्य सरकार द्वारा सहयोगात्मक रवैया नहीं अपनाया जाने के कारण कुछ भी नहीं कर पा रही। वे कहती हैं कि सपने दिखाने से बेहतर है कि धरातल पर कुछ किया जाए ।कोरोना संकट में हजारों की तादाद में दिल्ली व अन्य शहरों में फंसे क्षेत्र के लोगों को वापस लाने में भी इनके द्वारा गुपचुप तरीके से मदद की गई ।जहां कहीं से भी लोगों के द्वारा राहत की मांग की गई उनकी टीम वहां पहुंची और लोगों को राहत पहुंचाई। वे कहती हैं कि क्षेत्र में बिना किसी सरकारी सहायता के कई सारे सामाजिक गतिविधियों को संचालित करने को पूरी तरह से कृत संकल्पित है। जिसमें गरीब बेटियों की शादी करवाना बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार का सृजन स्थानीय स्तर पर करना सामाजिक स्तर पर जागृति पैदा करना तथा लोगों को उनके अधिकारों के बारे में बताना काफी अहम है। क्षेत्र के लोगों से मिल रहे जबरदस्त रिस्पांस से उनका मनोबल भी बढ़ा है।