विप्र केयर योजना का रक्षाबंधन से क्रियान्वयन

जयपुर। विप्र फाउंडेशन की ओर से कोरोना के चलते आर्थिक दबावग्रस्त ब्राह्मण परिवारों को भोजन, शिक्षा, चिकित्सा एवं कन्या विवाह में सहयोग किया जाएगा। इसके लिए विप्र केयर योजना लॉन्च की गई है जिसके तहत देशभर के सभी जोनों सहित राजस्थान के 5 जोनों में कम से कम 500 राशन किट, 100 को शिक्षा सहयोग, 50 को चिकित्सा सहायता एवं 10 कन्याओं के विवाह में सहयोग करने का लक्ष्य है। रक्षा बंधन से जरूरतमंदों को सहयोग व सहायता का सिलसिला शुरू हो जाएगा।
विफा के राष्ट्रीय अध्यक्ष महावीर प्रसाद शर्मा ने बुधवार को मुंबई में समारोहपूर्वक विप्र केयर योजना को लॉन्च किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सत्यनारायण श्रीमाली, राष्ट्रीय महामंत्री डॉ सुनील शर्मा सीए, प्रदेश महामंत्री सीए तरुण ढंढ, मुंबई व मुंबई शहर अध्यक्ष मनोज शर्मा आदि उपस्थित थे। वर्चुअल लॉन्चिंग में विफा संरक्षक बनवारी लाल सोती सहित देशभर से संस्था के पदाधिकारी जुड़े हुए थे।
विप्र फाउंडेशन के संस्थापक संयोजक सुशील ओझा ने बताया कि कोरोना आपदाकाल में समाज के जरूरतमंद वर्ग को राहत प्रदान करने की इस अभिनव विप्र केयर योजना का ऑनलाइन संचालन केंद्रीय समिति की देखरेख में जोनल स्तर से किया जाएगा और इस बारे में विस्तृत जानकारी 3 अगस्त से ऑनलाइन मिलने लग जाएगी। इस योजना के माध्यम से अगले छह महीनों में समाज के न्यूनतम दस हजार परिवारों को राहत पहुंचाने का लक्ष्य है।
ओझा ने बताया कि योजना के सफल संचालन के लिए विख्यात कंपनी सेक्रेटरी अशोक पारीक के संयोजन में पच्चीस सदस्यीय केंद्रीय समिति भी गठित की गई है जिसमें धर्मगुरु, सामाजिक, साहित्यिक, राजनैतिक, महिला, युवा, उद्यमी, अर्थशास्त्री, चार्टर्ड अकाउंटेंट, कम्पनी सेक्रेटरी, शिक्षाविद, प्रौद्योगिकी विशेषज्ञ, सेवानिवृत्त अधिकारी शामिल हैं।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.