मुख्‍य रेल संरक्षा आयुक्‍त ने 130 किलोमीटर के नव-विद्युतीकृत रेल सेक्‍शन का निरीक्षण किया

धुरी-जाखल और धुरी-लैहरा मुहब्‍बत रेल सेक्‍शनों पर 120 किलोमीटर प्रति घंटे तक का स्‍पीड ट्रायल किया गया

नई दिल्ली। उत्‍तर रेलवे ने अम्‍बाला मंडल पर 62 किलोमीटर लम्‍बे धुरी-जाखल और 68 किलोमीटर लम्‍बे धुरी -लेहरा मोहब्‍बत इकहरी लाइन सेक्‍शन पर रेल विद्य़ुतीकरण का कार्य पूरा कर लिया है । मुख्‍य रेल संरक्षा आयुक्‍त शैलेश कुमार पाठक ने इन सेक्‍शनों का गहन निरीक्षण किया । उनके साथ उत्‍तर रेलवे के प्रमुख बिजली इंजीनियर निखिल पांडे, रेल विकास निगम लिमिटेड के मुख्‍य प्रबंध निदेशक प्रदीप गौड़, अम्‍बाला मंडल के मंडल रेल प्रबंधक, गुरिन्‍दर मोहन सिंह तथा प्रधान कार्यालय, मंडल और रेल विकास निगम लिमिटेड के अनेक अधिकारी मौजूद थे ।मुख्‍य रेल संरक्षा आयुक्‍त ने मोटर ट्रॉली द्वारा धुरी-जाखल और धूरी-लैहरा मुहब्‍ब सेक्‍शनों का विस्‍तृत संरक्षा निरीक्षण किया । बाद में, बिजली के इंजन द्वारा करंट कलैक्‍शन टेस्‍ट और स्‍पीड ट्रायल भी किये गये । जाखल-धुरी और धुरी-लैहरा मुहब्‍बत-धुरी रेल सेक्‍शनों पर 120 किलोमीटर प्रति घंटा की गति तक का स्‍पीड ट्रायल सफलतापूर्वक किया गया । करंट कलैक्‍शन परीक्षण ऑलिवर-जी तकनीक से किए गए । ‘जी’ करंट कलैक्‍शन के लिए वीडियो रिकॉर्डिंग और जीपीएस मार्किंग सिस्‍टम वाले ऑवर-हेड लाइन निरीक्षण का एक प्रकार है । चिंगारी-रहित करंट कलैक्‍शन सुनिश्चित करने की यह एक बेहद भरोसेमंद तकनीक है ।

निरीक्षण के दौरान इन लाइनों पर पड़ने वाले रोड-ओवर-ब्रिजों/रोड-अंडर-ब्रिजों, रेल-फाटकों और फुट–ओवर-ब्रिजों जैसे निर्माण का भी निरीक्षण किया गया । मुख्‍य रेल संरक्षा आयुक्‍त ने इन सेक्‍शनों पर आने वाले रेलवे स्‍टेशनों व वहां उपलब्‍ध कराई गयी सुविधाओं का भी निरीक्षण किया ।उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने बताया कि मुख्‍य रेल संरक्षा आयुक्‍त ने किए गए विद्युतीकृत कार्य पर संतोष प्रकट किया और इन सेक्‍शनों पर रेलगाडियां चलाने की मंजूरी दी । इन रेलवे लाइनों को रेल यातायात के लिए खोल दिया गया है और उत्‍तर रेलवे ने इन पर रेल परिचालन शुरू कर दिया है ।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.