यूको बैंक ने 0.40 प्रतिशत सस्ता किया कर्ज, रिजर्व बैंक के फैसले का लाभ ग्राहकों को

यूको बैंक ने बुधवार को कहा कि उसने रेपो दर आधारित कर्ज की ब्याज दर में 0.40 प्रतिशत कटौती कर इसे 6.90 प्रतिशत पर ला दिया है। बैंक की यह कटौती रिजर्व बैंक द्वारा हाल ही में रेपो दर में की गई कटौती का लाभ ग्राहकों को पहुंचाने वाला कदम है। बैंक ने कहा है कि इस कटौती के परिणामस्वरूप बैंक का खुदरा और एमएसएमई कर्ज भी 0.40 प्रतिशत सस्ता होगा। हालांकि, बैंक ने जमा दरों में किसी तरह के बदलाव की जानकारी नहीं दी है।
सरकारी चाहती है कि बैंक अपनी ब्याज दरों को कम करें ताकि कर्ज सस्ता हो और अर्थव्यवस्था में गतिविधियां तेज हों। कोरोना वायरस के कारण अर्थव्यवस्था की गति पिछले कुछ महीनों में काफी धीमी पड़ गई।
एक मार्च के बाद से बैंकों ने अब तक छह लाख करोड़ रुपये के कर्ज को मंजूरी दी है। इसमें से यूको बैंक ने 15,000 करोड़ रुपये के कर्ज को मंजूरी दी है, जिसमें से 12,000 करोड़ का कर्ज बांट भी दिया गया है। बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उसके 1.36 लाख ग्राहकों को फायदा पहुंचा है।
बता दें पिछले दिनों कोरोना वायरस के बढ़ते संकट के मद्देनजर रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने पूंजी की उपलब्धता बढ़ाने और ब्याज दरों में कमी लाने के उद्देश्य से रिजर्व बैंक गर्वनर शक्तिकांत दास ने नीतिगत दरों में कटौती की घोषणा की थी। रिजर्व बैंक गवर्नर ने कहा कि नीतिगत रेपो दर में 0.40 प्रतिशत की कटौती की गई है, जबकि रिवर्स रेपो रेट में भी 40 बेसिस पॉइंट की कटौती करते हुए इसे 3.35% कर दिया गया है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.