अंधविश्वास उन्मूलन पर बनाई गई लघु फिल्म ’’टिटहरी के अण्डे’’ हुई रिलीज

कोटा – एम एस राज फिॅल्मस द्वारा निर्मित एवं डॉ0 सलीम राज द्वारा लिखित एवं निर्देशित लघु फिल्म ’’टिटहरी के अण्डे’’ का पब्लिक रिलीज समारोह अखिल भारतीय कौशिक गायत्री परिवार के आश्रम बोरखेडा कोटा में वरिष्ठ रंगकर्मी एवं फिल्मकार दयानंद सर्पे, गायत्री परिवार के प्रधान संचालक यज्ञदत्त हाडा बाल कल्याण समिति के सदस्य अरूण भार्गव, जिला विधि सेवा प्राधीकरण के एडवोकेट भुवनेश शर्मा ने एस आर 99 यू-टयूब चेनल पर रिमोर्ट दबाकर रिलीज किया। समारोह के शुरूआत में स्वर्गीय श्री सुरेश वैष्णव व संत श्री शम्भु सिंह जी कौशिक को स्मरण करते हुए उन्हे पुष्पान्जलि अर्पित की गई। इस अवसर पर फिल्म के कलाकार, स्वरगीय श्री सुरेश वैष्णव के सुपुत्र मिलन वैष्णव, चाइल्ड लाइन के समन्वयक कोटा कल्पना प्रजापति भुपेन्द्र सिंह अमर लाल टीम सदस्य, गायत्री आश्रम के प्रबन्धक बलराम भारद्वाज व साधक गण उपस्थित रहे। फिल्म के निर्देशक डॉ सलीम राज ने बताया कि फिल्म 6 साल की बालिका के साथ घटी सच्ची घटना पर आधारित है। जिसमें अंधविश्वास के कारण बच्चों पर होने वाले अत्याचार को दर्शाया गया है। छोटेे ही नहीं बड़ो को भी सामाजिक बहिष्कार जैसे कृत्यों को झेलना पड़ता है। बच्चो के अधिकार पर कल्पना प्रजापति चाइल्ड लाइन की कार्यप्रणाली पर भूपेन्द्र सिंह व अमर लाल बाल कानूनों पर एडवोकेट भुवनेश शर्मा विभिन्न बाल कल्याण योजनाओं पर अरूण भार्गव ने चर्चा की श्री सप्रे ने अंधविश्वास जैसी कुरूति पर बनी फिल्म की सराहना करते हुए अन्य सामयिक विषयो पर भी लघु फिल्म बनाने का आवहान किया। कोरोना काल मंे फिजिकल डिस्टेंन्सिंग व सेनेटाईजेशन को अपनाते हुए आयोजित कार्यक्रम में स्काउट गाइड स्थानीय संघ कोटा रेलवे चाईल्ड व गायत्री परिवार का विशेष सहयोग रहा। यज्ञदत्त हाडा नोडल निर्देशक ने बताया कि फिल्म के अंत में बच्चो पर अत्याचार होने पर चाइल्ड लाइन नं 1098 पर संदेश दिया गया एवं उपस्थित फिल्म निर्देशक डॉ सलीम राज सहित फिल्म में मुख्य कलाकारों तारिका शर्मा, आरती गुप्ता, अब्दुल सलाम, सुरेश वैष्णव , राम शर्मा कापरेन, विरेन्द्र शक्तावत अमित जैन, हनी सक्सैना, विजय लक्ष्मी शर्मा निकिता शर्मा पूजा गौतम अब्दुल सलीम सुमन माहेश्वरी, दिव्य कुलदीप हाड़ा, कृष्णा शर्मा अभिनव जैन निकुंज अग्रवाल को वैदिक मंत्रो के साथ रोली तिलक लगाकर माल्यार्पण व श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। फिल्म का म्यूजिक अंकुश सक्सेना ने दिया है, कैमरा मैन मुकेश प्रजापति एवं पोस्टर कमल वैष्णव ने डिजाइन किया है। फिल्म को इन्टरनेशनल फिल्म समारोह में भी काफी सराहना मिली है। फिल्म की शुटिग कोटा बून्दी के ग्रामीण इलाकों में की गई है। कार्यक्रम में ममता भारद्वाज प्रभुलाल पूजा व पूनम का विशेष सहयोग रहा।

 

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.