मेज दुखांतिका के पीड़ित परिवारों को लोकसभा अध्यक्ष ने भेंट की आर्थिक सहायता

 डॉ. प्रभात कुमार सिंघल

 कोटा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने गुरूवार को  कैम्प कार्यालय में विगत दिनों हुई मेज नदी दुखांतिका के पीड़ित परिवारों को प्रधानमंत्री सहायता कोष से आर्थिक सहायता के चैंक सौंपे। इस अवसर पर पीड़ित परिवारों को ढांढस बंधाते हुए बिरला ने पुनः परिवारों को आश्वस्त किया कि हर सुख-दुख में वे प्रत्येक परिवार के सहभागी हैं।
गत 26 फरवरी को कोटा के गणेश तालाब निवासी मुरली का परिवार व रिश्तेदार भात लेकर सवाई माधोपुर जा रहे थे। रास्तें में मेज नदी के पुल से बस नदी में जा गिरी। दुर्घटना में कोटा के 19 जबकि बूंदी के 3 लोगों की मृत्यु हो गई जबकि 4 जने गंभीर घायल हो गए थे।
घटना की जानकारी मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष बिरला उसी समय विमान से कोटा पहुंचे और मृतकों के दाह संस्कार में सम्मिलित हुए थे। उन्होंने मौके पर ही पीड़ित परिवारों को प्रधानमंत्री सहायता कोष से आर्थिक सहायता की घोषणा की थी। सहायता राशि के यह चेक बिरला ने गुरूवार को कोटा स्थित कैंप कार्यालय पर वितरित किए। 19 मृतकों के परिजनों को जहां 2-2 लाख के चेक, वहीं 4 घायलों को 50-50 हजार की राशि के चेक दिए गए।
इस अवसर पर बिरला ने कहा कि यह हादसा बेहद दुखद था। सब लोग हंसते-गाते विवाह के माहौल में कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। लेकिन नियती को शायद कुछ और ही मंजूर था। जो चले गए उनकी कमी तो दूर नहीं की जा सकती परन्तु सहायता राशि से हमने पीड़ित परिवारों को कुछ संबल प्रदान करने का प्रयास किया है। उन्होेंने परिवारों को आश्वस्त किया कि भविष्य में भी यदि परिवारों को किसी सहायता की आवश्यकता हो तो वे हर समय इसके लिए तैयार हैं।
इससे पूर्व लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बूंदी यात्रा के दौरान भी सर्किट हाउस में मेज दुखांतिका में मारे गए बूंदी के तीन व्यक्तियों के परिवारों को आर्थिक सहायता के चेक सौंपे। इस दौरान एक बच्ची को चेक सौंपते हुए लोकसभा अध्यक्ष बिरला भावुक हो गए।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.