शिवराज और सिंधिया के सामंजस्य पर मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल ने ली शपथ

भोपाल। मध्य प्रदेश में 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उप चुनाव से पहले शिवराज सरकार का दूसरा मंत्रिमंडल विस्तार गुरूवार को हो गया। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने 28 मंत्रियों को पद और गोपनियता की शपथ दिलवाई। जिसमें 20 कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री के तौर पर शिवराज मंत्रिमंडल में शामिल हुए है। मध्य प्रदेश में कुल 230 विधानसभा सीटे हैं जिनकी सदस्य संख्या के हिसाब से अधिकतम 35 विधायक मंत्री बनाए जा सकते हैं। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के सत्ता से बेदखल होने के बाद 23 मार्च को मुख्यमंत्री के रूप में सिर्फ शिवराज सिंह चौहान ने शपथ ली थी। जिसके 29 दिन बाद पाँच मंत्रियों को और कैबिनेट में शामिल किया गया था। वही अब भाजपा की शिवराज सरकार को 100 दिन पूरे होने के बाद मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार किया गया है।
भाजपा की शिवराज सरकार के दूसरे मंत्रिमंडल विस्तार में गुरुवार को कुल 28 मंत्रियों ने शपथ ली, जिसमें 20 कैबिनेट मंत्री, 8 राज्य मंत्री शामिल हैं। इनमें गोपाल भार्गव, विजय शाह, यशोधरा राजे सिंधिया समेत कई बड़े नेताओं को शामिल किया गया है। मंत्रिमंडल विस्तार में कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों की छाप साफ दिखी। ज्योतिरादित्य सिंधिया इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होनें खुद विशेष विमान से केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के साथ भोपाल पहुँचे। कैबिनेट विस्तार से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत ने दिल्ली जाकर शीर्ष नेतृत्व के साथ मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले नेताओं के नामों पर मंथन किया था।