कोरोना वायरस के बीच इस साल मुंबई में हो सकता है आईपीएल !

लॉकडाउन के बीच बीसीसीआई हरसंभव प्रयास कर रहा है कि इस साल आईपीएल का आयोजन हो जाए। ऐसे में आईपीएल के एक प्रमुख शेयरधारक ने टूर्नामेंट को पूरी तरह से मुंबई में आयोजित करने का सुझाव दिया है। पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 महामारी के कारण बीसीसीआई सितंबर-अक्टूबर की विंडो के दौरान आईपीएल की मेजबानी करने की योजना बना रहा था, लेकिन आईसीसी के साथ अभी तक टी-20 विश्व कप के भविष्य के बारे में कोई ठोस घोषणा नहीं हुई है। ऐसे में बीसीसीआई अब बीच में फंसा हुआ है।
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा कि कि यह एक बहुत ही शुरुआती प्रक्रिया में है लेकिन अगर भारत में आईपीएल होता है और अक्टूबर तक मुंबई में स्थिति नियंत्रण में रहती है तो मुंबई में चार टॉप श्रेणी के फ्ल्डलाइट मैदान उपलब्ध हैं। BCCI, प्रसारकों (स्टार स्पोर्ट्स) के लिए लॉजिस्टिक्स, बायो-बबल बनाए रखने, सब कुछ सुचारू रूप से प्लान किया जा सकता है।
बता दें कि मुंबई में 31000 कोविड -19 मामले हैं, जिससे यह भारत का चौथा कोरोना के मामले में सबसे खराब शहर है। मुंबई में होने वाले आईपीएल के लिए न केवल शहर में कोविड -19 स्थिति को बेहतर बनाने की आवश्यकता होगी, बल्कि तथ्य यह है कि शहर में वानखेड़े स्टेडियम, ब्रेबॉर्न स्टेडियम और डीवाई पाटिल (केवल तीन प्रमुख मैदान हैं) भी एक बड़ी बाधा के रूप में सामने आ सकती है जहां तैयारी पहले से ही करनी होगी।
बता दें कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कुछ समय पहले कहा था कि बीसीसीआई इस बात का पूरा प्रयास कर रही है कि इस साल आईपीएल का आयोजन न टले। उन्होंने यह भी कहा कि अगर इस साल आईपीएल का आयोजन नहीं होता है तो इससे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बाेर्ड को लगभग 4 हजार करोड़ का नुकसान हो जाएगा। बोर्ड ने यह भी कहा कि जरूरत पड़ने पर आईपीएल को खाली स्टेडियम या बिना दर्शकों के भी करवाया जा सकता है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.