उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने स्‍वच्‍छता पखवाडा पर ‘स्‍वच्‍छता शपथ’ दिलाई 

नई दिल्ली (चलते फिरते ब्यूरो)।स्‍वच्‍छता पखवाडा के दौरान रेलवे स्‍टेशनों, रेलगाडियों, रेलपथों, रेलवे कालोनियों और अन्‍य रेल प्रतिष्‍ठानों में प्‍लास्टिक कचरे के प्रबंधन पर विशेष ध्‍यान  स्‍वच्‍छता पखवाड़ा ‘स्‍वच्‍छ रेल स्‍वच्‍छ भारत मिशन’ का एक महत्‍वपूर्ण भाग है । यह 16 सितम्‍बर, 2022 से 2 अक्‍टूबर, 2022 तक रेलगाडियॉं तथा इसके संस्‍थान ‘सबकी जिम्‍मेदारी’ के रूप में मनाया जा रहा है ।उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने आज उत्‍तर रेलवे प्रधान कार्यालय, बडौदा हाउस, नई दिल्‍ली में आयोजित एक कार्यक्रम में स्‍वच्‍छता की शपथ दिलाई ।इस अवसर पर उत्‍तर रेलवे के सभी प्रमुख विभागाध्‍यक्ष और अनेक वरिष्‍ठ रेल अधिकारी भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि रेलगाडियों और रेल परिसरों को स्‍वच्‍छ रखना हम सबकी जिम्‍मेदारी है । स्‍वच्‍छता पखवाडा के दौरान रेलवे स्‍टेशनों, रेलगाडियों, रेलपथों, रेलवे कालोनियों और अन्‍य रेल प्रतिष्‍ठानों में प्‍लास्टिक कचरे के प्रबंधन पर विशेष ध्‍यान दिया जा रहा है । रेल परिसरों को साफ-सुथरा रखने के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए वैबिनारों को आयोजन किया जायेगा । वैबिनार के दौरान विभिन्‍न सरकारी, प्राईवेट और गैर-सरकारी संगठनों के विशेषज्ञ और वक्‍ता सम्‍बोधित करेंगे । इस अवसर पर आज बडौदा हाउस में आयोजित एक वैबिनार में उत्‍तर प्रदेश सरकार के पर्यावरण सचिव श्री आशीष तिवारी ने संक्षिप्‍त वक्‍तव्‍य दिया जबकि निदेशक/साहस, सुश्री सोनिया गागा, संस्‍थापक एवं निदेशक/व्‍हाय वेस्‍ट वेडनेस्‍डे और वरिष्‍ठ सलाहकार/गिज़ डॉ0 रचना अरोड़ा ने भी अपने अनुभव साझा किए और स्‍वच्‍छता कार्यक्रमों के लिए अपने सुझाव दिए । रेलवे द्वारा ठोस कचरा प्रबंधन, जल और ऊर्जा संरक्षण, स्‍वच्‍छ भारत मिशन के अंतर्गत भारतीय रेलवे की पहलों, रेलवे स्‍टेशनों की हरित रेटिंग और प्‍लास्टिक कचरे से निपटने तथा सर्कुलर इकोनॉमी के पहलुओं पर भी चर्चा की जायेगी ।