नोएडा स्थित विवादास्पद ट्विन टावर को आज गिराया गया

सुपरटेक ने बयान जारी कर करीब 500 करोड़ के नुकसान की बात कही है

नोएडा(चलते फिरते ब्यूरो)  । 2004 में सुपरटेक को नोएडा के  सेक्टर  93ए  में नोएडा अथॉरिटी ने एक आवास परियोजना के विकास के लिए भूमि आवंटित की थी, जिसके बाद सुपरटेक ने ‘एमराल्ड कोर्ट’ सोसायटी पर काम शुरू किया।2005  में एमराल्ड कोर्ट के हाउसिंग प्रोजेक्ट को नोएडा अथॉरिटी ने मंजूरी दी इसमें सुपरटेक को दस मंजिला 14 आवासीय टावर बनाने की अनुमति दी गई थी।  2006 में सुपरटेक ने प्रोजेक्ट के लिए और जमीन की मांग की और नोएडा अथॉरिटी से अप्रूवल ले लिया। एक और आवासीय टावर को जोड़ने के लिए प्लान में संशोधन किया गया. संशोधन के बाद अब कुल 15 आवासीय टावर थे, जिसमें एस्टर 1 से 8, एस्पायर 1 से 4 और एम्परर 1 से 3 शामिल थे। 2009 में सुपरटेक ने एक बार फिर से सोसाइटी बनाने की योजना को संशोधित किया. इस बार दो और 24 मंजिला टावर एपेक्स और सेयेन जोड़े गए और तुरंत निर्माण शुरू कर दिया।सोसाइटी में रहने वाले कुछ लोगों ने बिल्डिंग को बनाने के मानदंडों के उल्लंघन का हवाला देते हुए इसका विरोध किया, उस समय एमराल्ड कोर्ट में करीब 40 से 50 लोग ही रह रहे थे।2012 में बिल्डर ने एपेक्स और सेयेन टावर में मंजिलों की संख्या को 24 से बढ़ाकर 40 करने के लिए संशोधित किया. इस समय निर्माण जोरो पर था। दिसंबर 2012 में एमराल्ड कोर्ट रेजिडेंट्स एसोसिएशन ने इलाहाबाद हाई कोर्ट का रुख किया. परिसर में रहने वालों लोगों ने कोर्ट में लोगों की सहमति, इमारतों के बीच कम से कम 16 मीटर की दूरी और ग्रीन क्षेत्र में बनाए जा रहे टावर जैसे नियमों के उल्लंघन का हवाला दिया।2014 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने ट्विन टावरों को गिराने का आदेश दिया, डेवलपर के साथ मिलीभगत के लिए नोएडा प्राधिकरण की खिंचाई भी की। इस आदेश के बाद सोसाइटी में निर्माण को रोक दिया गया। मई 2014 में  सुपरटेक ने राहत की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया और कहा कि हर तरह से मंजूरी ली गई है।31 अगस्त, 2021 को सुप्रीम कोर्ट ने ट्विन टावरों को बनाने में स्थानीय अधिकारियों की मिलीभगत को पाया और तीन महीने के अंदर ट्विन टावर को ध्वस्त करने का आदेश दिया।फरवरी 2022 को नोएडा अथॉरिटी ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि ट्विन टावर को 22 मई को गिराया जाएगा।17 मई, 2022 को सुप्रीम कोर्ट ने ट्विन टावर को गिराने की समय सीमा 28 अगस्त तक बढ़ा दी।आज  28 अगस्त, 2022 को दोपहर 2.30 बजे ट्विन टावरों को गिरा दिया गया।