कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी देश से माफी  मांगे-आदेश गुप्ता

कांग्रेस ने आज तक परिवारवाद से ऊपर उठकर कुछ सोचा ही नहीं-रमेश बिधूड़ी

नई दिल्ली(चलते फिरते ब्यूरो)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  आदेश गुप्ता के नेतृत्व में आज भाजपा कार्यकर्ताओं ने संसद में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू के लिए अमर्यादित शब्दों का प्रयोग करने के खिलाफ कांग्रेस मुख्यालय के बाहर प्रचंड विरोध प्रदर्शन किया। नेता प्रतिपक्ष  रामवीर सिंह बिधूड़ी और सांसद रमेश बिधूड़ी की उपस्थिति में हुए इस विरोध प्रदर्शन में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी का पुतला जलाकर विरोध जताया।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए। देश की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जो देश का पहला नागरिक होने के साथ-साथ तीनों सेनाओं की प्रमुख भी हैं। राष्ट्रपति किसी पार्टी का नहीं बल्कि वह देश का होता है और अगर उनके खिलाफ इस तरह के अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है तो यह बेहद ही शर्मनाक है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी ने वैसे ही लोगों को संसद में कांग्रेस दल का नेता बनाया है जिन्हें महिलाओं का सम्मान करना नहीं आता। अधीर रंजन चौधरी को अपने पद से तुरंत त्यागपत्र देना चाहिए। देश की सर्वोच्च संवैधानिक पद पर बैठी हुई आदिवासी महिला के लिए अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया है वह निंदनीय है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की महिलाओं को लेकर जो मानसिकता रही है, वह साफ तौर पर अब सबके सामने दिख रही हैं।कांग्रेस को एक गरीब आदिवासी महिला का राष्ट्रपति बनना बर्दास्त नहीं हो रहा है। उन्हें यह पच नहीं रहा है कि एक गांव से निकली महिला ग्राम पंचायत सदस्य बनती हुई आज देश के सर्वोच्च पद पर पहुंच गई है। आज देश के सामने कांग्रेस ने अपनी मानसिक दिवालियापन दर्शाने का काम किया है।

नेता प्रतिपक्ष  रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही देश के दलितों और पिछड़ों का अपमान करती रही हैं। आज तक कांग्रेस की मानसिकता दलितों को सिर्फ वोट बैंक की रही है और यही कारण है कि कांग्रेस के शासन में दलितों और पिछड़े समाज के लिए कुछ नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की वास्तविक मानसिकता यही है। हमेशा से डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर को अपमान करने का काम कांग्रेस ने किया है और आज उसी का नतीजा है कि एक आदिवासी समाज से आने वाली महिला को जब राष्ट्रपति बनाया गया है, तो वह कांग्रेस से हजम नहीं हो रहा है।

सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि कांग्रेस की ओछी मानसिकता जगजाहिर हो चुकी है। कांग्रेस आज आदिवासी समाज की बेटी को देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर देखकर कांग्रेस को पच नहीं रहा है क्योंकि आज तक कांग्रेस ने परिवारवाद से ऊपर नहीं उठकर कुछ नहीं सोचा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं की बदज़ुबानी व दलित उपेक्षित वर्ग जो-दशकों से अपने सम्मान की बाट जोह रहा था। आज जब देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सरकार द्वारा सम्मान दिया जा रहा है, तो इसे कांग्रेस पचा नहीं पा रही है।

इस प्रदर्शन में प्रदेश भाजपा महामंत्री हर्ष मल्होत्रा, प्रदेश उपाध्यक्ष  वीरेन्द्र सचदेवा, पूर्वांचल मोर्चा अध्यक्ष कौशल मिश्रा और  जय प्रकाश सहित अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.