शेरपुर-दिघवारा के बीच सिक्सलेन सड़क पुल का शीघ्र होगा निर्माण

सांसद रुडी ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का जताया आभार

पटना(चलते फिरते ब्यूरो)  । बिहार में बेहतर सड़क कनेक्टिविटी प्रदान कर सारण जिला को विकास के मानक के रूप में स्थापित करने की सांसद रुडी की दूरदर्शी सोच अब धरातल पर आकार ले रही है। अब वह दिन दूर नहीं जब सारण ग्रेटर पटना की संकल्पना को साकार करेगा क्योंकि, पटना पथ चक्र का महत्वपूर्ण हिस्सा शेरपुर-दिघवारा गंगा पथ की निविदा जारी हो गई है। इस संदर्भ में सांसद रूडी ने कहा कि निविदा जारी होने के साथ ही यह सिक्स लेन पुल अब जमीन पर आकार लेने लगा है। अब शीघ्र ही इसका कार्य आवंटन कर निर्माण कार्य शुरू होगा। उन्होंने कहा कि पटना के दानापुर स्थित शेरपुर से सारण के दिघवारा को जोड़ने वाले गंगा नदी पर पटना और सारण के बीच यह तीसरा और छः लेन का एकमात्र पुल होगा जो सड़क कनेक्टिविटी के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण होगा। पटना रिंग रोड का हिस्सा इस सिक्स लेन वाले पुल के माध्यम से राज्य के किसी भी भाग में जाना सुगम होगा जिससे यह पुल व्यवसाय, पर्यटन और अन्य मामलों में सारणवासियों के लिए वरदान साबित होगा।

पटना रिंग रोड के हिस्से के रूप में गंगा नदी के पार 6 लेन पुल और इसके पहुंच पथ के निर्माण के लिए बुधवार को निविदा की प्रक्रिया पूरी हुई है। 13 सितम्बर को निविदा खुलेगी और उसके बाद कार्य आवंटन तथा निर्माण कार्य शुरू होगा। ईपीसी मोड पर बनने वाला यह पथ शेरपुर के पास 8.480 किमी से शुरू होकर 23.000 किमी तक होगा। विदित हो कि यह योजना लगभग 138 किलोमीटर लंबे पटना रिंग रोड का हिस्सा है जिसे सांसद रुडी ने अपने प्रयास से रिंग रोड परियोजना में शामिल कराया था। 4900 करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाले 11 किलोमीटर लंबे इस गंगा पथ पुल का कार्यारंभ अब शीघ्र ही होगा। विदित हो कि परिवहन, पर्यटन और संस्कृति समिति के सदस्य है सारण सांसद रुडी। इसके साथ ही इसकी उप समिति की अध्यक्षता भी रूडी ही करते है। समिति के माध्यम से इस संदर्भ में कई बार NHAI और सरकार की अन्य विभागीय अधिकारियों और मंत्रियों से बैठक कर रुडी ने प्रयास किया गया जो अब फलीभूत हुआ है।

उत्तर बिहार को जोड़ने वाले पटना और सारण के बीच जेपी सेतु के निर्माण से सारणवासियों की सम्पूर्ण आवश्यकताओं की पूर्ति नहीं हो पा रही थी। पुल सह सड़क पथ संकरा होने के कारण इससे भारी वाहनों का आवागमन भी नहीं हो पाता है इसलिए सारण प्रमंडल की घनी आबादी को देखते हुए और उनकी आवश्यकताओं को तथा राजधानी पटना से बेहतर कनेक्टिविटी के मद्देनजर एक चौड़ी सड़क पुल की आवश्यकता महसूस की जा रही थी। इसी के मद्देनजर सांसद रुडी ने एक और पुल के निर्माण के लिए राज्य सरकार के विभागीय मंत्री और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठकें की और बाद में इसे पटना रिंग रोड के महत्वपूर्ण हिस्सा के रूप में शामिल करने की कवायद शुरू की। इसका परिणाम यह हुआ कि अब सारण के दिघवारा से पटना के शेरपुर को जोड़ने वाले उच्च स्तरीय सिक्सलेन गंगा पथ पुल की निविदा जारी कर दी गई है और इसका निर्माण शीघ्र ही मूर्तरूप लेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.