उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक ने शकूरबस्‍ती स्थित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया

आइसोलेशन रेल कोचों में अलार्म प्रणाली लगाई गई

नई दिल्ली। उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक  राजीव चौधरी ने शकूरबस्‍ती रेलवे स्‍टेशन स्थित कोविड केयर सेंटर का दौरा किया । इस सेंटर में कोरोना रोगियों के लिए 50 आइसोलेशन कोच खड़े किए गए हैं ।महाप्रबंधक ने इस केन्‍द्र का निरीक्षण किया । उत्‍तर रेलवे द्वारा किए जा रहे  रेल डिब्‍बों एवं रेल परिसर से संबंधित कार्यों से महाप्रबंधक को अवगत कराया गया । वहां उपस्थित रेलवे एवं राज्‍य सरकार के अधिकारियों को सम्‍बोधित करते हुए महाप्रबंधक ने रेलवे द्वारा किए जा रहे प्रयासों को प्रोत्‍साहित किया और महामारी के कारण उत्‍पन्‍न हुई परेशानियों को कम करने के लिए रेलवे के कार्यों की सराहना की ।

      मीडिया के साथ बातचीत करते हुए महाप्रबंधक  ने कहा कि भारतीय रेलवे इस आपदा के दौरान  राष्‍ट्र की सेवा में अपने सभी संसाधनों के साथ कार्य कर रही है ।  चूँकि इन डिब्‍बों में अधिक से अधिक रोगी पहुँच रहे हैं अत: हम यहां सुविधाओं का विस्‍तार कर रहे हैं। उन्‍होनें यह भी कहा कि दिल्‍ली सरकार की मांग पर उत्‍तर रेलवे ने दिल्‍ली क्षेत्र के 9 रेलवे स्‍टेशनों पर  503 आइसोलेशन कोच प्रदान किए हैं । शकूरबस्‍ती पर खड़े यह रेल कोच पीतमपुरा स्थित भगवान महावीर अस्‍पताल की सुविधाओं का विस्‍तार हैं । इससे रोगियों की भर्ती और उनकी निगरानी कर पाना आसान होगा । हल्‍के लक्षणों वाले रोगियों को इन आइसोलेशन कोचों में रखा जा रहा है । उत्‍तर रेलवे ढॉंचागत सुविधा और परिसर के अनुरक्षण के लिए जिम्‍मेदार होगा ।

प्‍लेटफॉर्मों की सफाई और स्‍वच्‍छताहाउस-कीपिंग सामग्री (लिनन एवं कम्‍बलप्रदान करना, जैव शौचालयों का प्रबंधनबिजली की आपूर्ति की व्‍यवस्‍था, जल, संचार सुविधाओं, साइनेज और विभिन्‍न क्षेत्रों के चिन्‍हांकन रेलवे द्वारा किए गए हैं ।  साथ ही इन कोचो में ऑक्‍सीजन सिलेंडर भी रेलवे द्वारा उपलब्‍ध कराए जायेंगे । खान-पान की व्‍यवस्‍था भी रेलवे द्वारा की जायेगी ।जहां ये डिब्‍बे लगाए गए हैं उस रेलवे स्‍टेशन एवं प्‍लेटफॉर्म की सुरक्षा, रेल सुरक्षा बल द्वारा की जायेगी ।

महाप्रबधक ने प्रत्‍येक डिब्‍बों में अलार्म प्रणाली लगाने का सुझाव दिया था । इस सलाह पर अमल करते हुए रेलवे इंजीनियरों ने एक सर्किट सिस्‍टम विकसित किया है जिसे प्रत्‍येक कोविड कोच में लगाया जा रहा है । डिब्‍बों के दूसरे कोने पर लाइट और साउंड कनेक्‍शन वाला एक डिस्‍प्‍ले बोर्ड लगाया गया है जिससे डॉक्‍टर और चिकित्‍सा कर्मचारियों को रोगी द्वारा बुलाए जाने का पता चलेगा ।आपातकालीन स्थिति में जैसे ही रोगी इस अलार्म प्रणाली का इस्‍तेमाल करेगा वैसे ही डिब्‍बे के बाहर लगी हुई लाल लाईट तेज़  आवाज़ के साथ जल उठेगी । साथ ही साथ इसकी सूचना डॉक्‍टरों के कोच में लगे डिस्‍प्‍ले  बोर्ड पर कोच नम्‍बर और साउंड के साथ पहुँच जायेगी । इस प्रकार चिकित्‍सा कर्मचारियों को आपातकालीन स्थिति में रोगी को तुरंत अटैंड  किया जा सकेगा ।वर्तमान में शकूरबस्‍ती पर आइसोलेशन कोचों में रोगियों के आने के शुरूआत हो गयी है अत: रेलवे अपनी तरफ से हर संभव सहायता प्रदान करने का प्रयास कर रही है ।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.