विपक्षी दलों ने गांधी प्रतिमा के पास जीएसटी के विरोध में प्रदर्शन किया

@ chaltefirte.com 

नई दिल्ली । राज्यसभा में कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष के द्वारा मूल्य वृद्धि और खाद्य पदार्थों पर लगाई गई जीएसटी पर तत्काल बहस की मांग की गई।विपक्ष की मांग को सरकार ने मानने से इनकार कर दिया और सदन की कार्यवाही दोपहर 2:00 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष के नेता शहीद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सांसद भवन में स्थापित महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने बैठकर धरना दिए और उसका विरोध किया।

राहुल गांधी ने देश में बढ़ती महंगाई को लेकर कहा कि रुपया डॉलर के मुकाबले 80  हो चुका है, आम लोगों को रसोई गैस भरवाने के लिए अब हजार रुपए से ऊपर देने पड़ रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि जून के बाद 1.3 करोड़ बेरोजगार कहां जाएंगे इससे कोई मतलब नहीं है वर्तमान केंद्र की भाजपा सरकार वही अनाज पर भी जीएसटी का भार ला दिया गया है। राहुल गांधी ने कहा कि जनता के मुद्दे उठाने से हमें कोई नहीं रोक सकता है और सरकार को जवाब देना ही पड़ेगा । केंद्र की भाजपा सरकार को जवाबदेही से भागने से काम नहीं चलने वाला है। राज्यसभा में सोमवार को भी मानसून सत्र के पहले ही दिन अग्निपथ जीएसटी दरों में बढ़ोतरी और अन्य मुद्दों पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्षी पार्टियों ने जोरदार विरोध किया जिसके कारण सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई थी। विपक्ष के नेता मलिकार्जुन खरगे और अन्य विपक्षी सदस्यों ने सशस्त्र बलों के लिए अग्नीपथ भर्ती योजना जीएसटी में विरोधी मूल्य वृद्धि और अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मांग की थी। विपक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि राज्यसभा में मानसून सत्र के पहले दिन कार्यवाही के निलंबन के विरोध के नोटिस को स्वीकार नहीं किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.