शेरपुर-दिघवारा पुल ग्रेटर पटना के संकल्पना को साकार करने में महत्वपूर्ण भूमिका होगी-राजीव प्रताप रूडी 

  @ chaltefirte.com
  पटना । बिहार को एक बहुत बड़ी सौगात मिल रही है, बहुप्रतीक्षित गंगा पथ-वे का हिस्सा शेरपुर-दिघवारा गंगा  पथ योजना का कार्य शीघ्र आवंटित होगा। जून के प्रथम सप्ताह में निविदा आमंत्रित करने का निर्णय हुआ है। परिवहन, पर्यटन एवं संस्कृति समिति के वरिष्ठ सदस्य सह सारण लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद राजीव प्रताप रुडी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि परियोजना के लिए  भू-अर्जन की कार्रवाई लगभग पूरी हो गई है। परियोजना के लिए सारण में कुल तीन ग्रामों में 22.2482 हे॰ भूमि अधिग्रहण किया जाना है, जिसके तहत 3जी प्राक्कलन स्वीकृत है और खानापुरी की कारवाई की जा रही है जिसके पश्चात मुआवजा भुगतान प्रारम्भ किया जायेगा।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता रुडी ने बताया कि परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के अंतर्गत समिति की बैठक हुई जिसमें भू अर्जन और मुआवजा संबंधी विषयों पर विवेचना करने के बाद यह निर्णय लिया गया कि योजना की निविदा जून के प्रथम सप्ताह में आमंत्रित कर कार्य का आवंटन कर दिया जाय। उन्होंने कहा कि पटना पथ चक्र के अंतर्गत यह सड़क पुल पड़ता है इसलिए 4200 करोड़ की लागत वाले इस पुल के निर्माण से दियारा क्षेत्र की प्रगति तो होगी ही साथ ही यह क्षेत्र ग्रेटर पटना का उपनगर हो सकेगा। सांसद ने बताया कि दिघवारा-शेरपुर के बीच गंगा पुल के निर्माण से सारण, सिवान व गोपालगंज आदि जिले समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग आसानी से इस रास्ते से राजधानी पटना व उसके आसपास तक पहुंचने लगेंगे। उन्होंने कहा कि दीघा के नजदीक गंगा के उसपार विशाल उपलब्ध भूमि पर प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय सुविधा संपन्न हवाई अडड्ा को भी इस सड़क पुल के माध्यम से कनेक्टिविटी प्राप्त होगी। उत्तर बिहार, पूर्वी बिहार, दक्षिण बिहार के साथ ही राज्य के सभी दिशाओं से आने वाले यात्रियों के लिए सुगम होगा और लोग देश विदेश के लिए वहां से उड़ान भर सकेंगे।सांसद रूडी ने कहा कि पटना के दानापुर स्थित शेरपुर से सारण के दिघवारा को जोड़ने वाले गंगा नदी पर पटना और सारण के बीच यह तीसरा और छह लेन का एकमात्र पुल होगा जो सड़क कनेक्टिविटी के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण होगा। पटना रिंग रोड का हिस्सा यह सिक्स लेन वाला पुल व्यवसाय, पर्यटन और अन्य मामलों में भी सारणवासियों के लिए वरदान साबित होगा। विदित हो कि यह योजना लगभग 138 किलोमीटर लंबे पटना रिंग रोड का हिस्सा है जिसे सांसद रुडी ने अपने प्रयास से रिंग रोड परियोजना में शामिल कराया था। 4200 करोड़ रुपये की लागत वाले 11 किलोमीटर लंबे इस गंगा पथ पुल का कार्यारंभ जून मे निविदा के बाद कार्य आवंटन उपरान्त होगा। यह सारण के दिघवारा से शुरू होकर पटना में दानापुर के शेरपुर पर मिलेगा। इस कारण यह पुल गंगा के दोनों तट को विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा। इसके निर्माण के बाद नया पटना या ग्रेटर पटना के लिए एक बड़ा क्षेत्र उपलब्ध होगा।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.