बड़े-बड़े मिट गए सितमगर, कोरोना क्या चीज है

राजस्थान ब्यूरो
जयपुर। मेवाड़ संभाग में उदयपुर, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़ ,बांसवाड़ा और डूंगरपुर जिले शामिल है। मेवाड़ शूरवीरों की भूमि है जिन्होंने अपनी आजादी की रक्षा के लिए हँसते हँसते बलिदान होना स्वीकार किया मगर पराधीनता मंजूर नहीं की। कोरोना महामारी ने मेवाड़ में भी कहर मचाया। मेवाड़ियों ने अपने शत्रु का डटकर मुकाबला किया। घर घर सतर्कता के उपाय किये गए। कोरोना को हराने के लिए किये गए प्रयासों में सफलता भी मिली। नेहरू युवा केंद्र संगठन के राज्य निदेशक डॉ भुवनेश जैन के अनुसार इस अंचल में आदिवासियों की बहुतायत है जिन्हें समझाइस कर कोरोना से बचाव और उपचार की जानकारी दी गयी। केंद्र के स्वयं सेवकों और युवा मंडलों ने गांव गांव में मास्क वितरण, सेनिटाइजेशन और खाद्यान वितरण आदि कार्यों में स्थानीय प्रशासन को अपना सहयोग दिया।
उदयपुर के युवा समन्वयक महेंद्र सिंह सिसोदिया के मुताबिक केंद्र के कार्यकर्ताओं ने कोरोना का मुकाबला साहस के साथ किया। सराड़ा ब्लॉक के राष्ट्रीय स्वयंसेवक गोपी लाल और उदयपुर के सावित्री देवी महिला मंडल की अध्यक्ष निधि औदीच्य तथा तथा राष्ट्रीय स्वयंसेवक लोकेश चौहान, पूनम माली के सहयोग बेहतर कार्य की मिसाल कायम की। सराड़ा में 10 गांवों में नारा लेखन सहित राष्ट्रीय स्वयंसेवक परमेश्वर के सहयोग से मास्क वितरण किया। सेनिटाइजेशन और खाद्यान बांटा गया। प्रशासन के सहयोग से सेनिटाइजेशन और खाद्यान बांटा गया।
बांसवाड़ा के युवा समन्वयक मन भारतीय के अनुसार आनन्दपुरी ब्लाक के राष्ट्रीय स्वयं सेवक दिनेशचन्द्र पारगी एवं बदामीलाल और श्री कृष्ण नवयुवक मण्डल ढांगपाड़ा ब्लाक तलवाड़ा के सचिव विकास मईडा नेतृत्व में कोरोना महामारी को रोकने के लिये युवा मण्डलों के सहयोग से बाहर से आये प्रवासियों की चौकपोस्ट पर जाँच करवाई गई एवं क्वारेन्टेन में रखने की व्यवस्था कि गई । सभी प्रवासियों, विधवा महिलाओ एवं असहाय लोगों को राशन सामग्री वितरित की गई और नरेगा योजना के तहत रोजगार दिलाया गया ।रोहित कुमार यादव के नेतृत्व में कोरोना वारियर्स के सम्मान में ग्रामीण क्षेत्रों में दीवारो पर नारा लेखन का कार्य भी किया गया।
डूंगरपुर के युवा समन्वयक प्रदीप कुमार ने बताया की डूंगरपुर के सरदार पटेल युवा मंडल नेजपुर के सुनील पटेल और राष्ट्रीय स्वयंसेवक ललित यादव के नेतृत्व में जागरूकता के अनेकों कार्य किए। निशुल्क मास्क, सेनीटाइजर, जरूरतमंद परिवारों को राशन वितरण, क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में निशुल्क होम्योपैथीक दवाई, रक्तदान, कोरोना वारियर्स ऑनलाइन सम्मान समारोह आयोजन, पशु पक्षियों के लिए अन्न की व्यवस्था, दीवारों पर कोरोना स्लोगन लिखना, कविताओं के माध्यम से आमजनों को जागरूकता संदेश देने जैसे अनेकों सेवा कार्य किए गए।
चित्तौड़गढ़ एवं प्रतापगढ़ की युवा समन्वयक संतोष चौहान ने बताया की जिले में युवा स्वयंसेवको और युवा मंडल का इस वैश्विक माहमारी को हराने में योगदान बहुत ही सराहनीय है। ब्लॉक बड़ीसादड़ी के स्वयंसेवक अभिषेक सोनी एवं प्रतापगढ़ जिले के ब्लॉक अरनोद के स्वयंसेवक रवि शर्मा ने कोविड 19 महामारी में लॉकडाउन के पहले दिन से ही करीब 2500 गरीब परिवारों को राशन सामग्री और भोजन पैकेट उपलब्ध कराया। राहगीरों को पानी और बिस्कुट के पैकेट वितरित किये। अभिषेक ने 2000 लोगो को काढ़ा वितरण, मास्क वितरण किया । इनका सहयोग बड़ीसादड़ी ब्लॉक के स्वयंसेवक सुनील सालवी ने भी किया।प्रतापगढ़ के एक्स स्वयंसेवक मनीष टेलर और स्वयंसेवक अर्पित टेलर ने स्वयं 1500 मास्क सिल कर निःशुल्क वितरीत किये। स्वयंसेवक राहुल सोलंकी ने 14 दिन प्रशासन की मदद से राशन पैकेट बनाने और वितरण में मदद की और अभी भी लोगो को पम्पलेट, पेंटिंग, मास्क वितरित करके जागरूक कर रहे है। इस माहमारी में महिला स्वंयसेवक भी पीछे नही है , बेंगु से सुनीता शर्मा , डूंगला से एकता सामर , राशमी से कविता सुखवाल एवं कन्नौज से भेरी जाट द्वारा लोगो को करीब 1700 मास्क बनाकर वितरित किये गए साथ ही घर पर मास्क बनाने और मास्क का सही उपयोग के लिए लगातार प्रेरीत कर रहे है। कोविड 19 जागरूकता के लिए आगे आये अन्य युवा और युवा मंडल दोराई अध्यक्ष संजय शर्मा, मरमी से रतन अहीर, राशमी से शुभम सुखवाल,बिलिया से भरत श्रीमाली, भदेसर से कन्हैया लाल, इराल से देवेंद्र सेन, कपासन से कैलाश सुखवाल, भैंसरोडगढ़ से बिरामचंद, निम्बाहेड़ा से रोशन लाल , चटावटी से नानूराम , बेंगु से प्रह्लाद सुथार आदि ने लॉक डाउन के दौरान गरीब परिवार को राशन और भोजन पैकेट उपलब्ध कराना, मास्क वितरण, सोशल मीडिया के माध्यम से लोगो को जागरूक करना, पक्षियों के परिण्डे के कार्य किये।
राजसमंद के युवा समन्वयक पवन घोसलिया ने बताया देवगढ़ के यूथ लीडर महेश पालीवाल और रेलमगरा के राष्ट्रीय स्वयंसेवक प्रवीण ने अपने अपने क्षेत्र में कोरोना महामारी को रोकने के लिए सराहनीय कार्य किया गया। यथा मास्क ,खाद्यान वितरण,कोरोना योद्धाओ का सम्मान और बचाव एवं उपचार के लिए लोगों को व्यापक स्तर पर जागरूक किया गया।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.