श्रीसंत को मिल सकता है इस टीम में खेलने का मौका, साबित करनी होगी फिटनेस

चेन्नई। केरल रणजी टीम के कोच टीनू योहानन ने गुरुवार को कहा कि पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत अगर सितंबर में बीसीसीआई का प्रतिबंध समाप्त होने के बाद अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो केरल क्रिकेट टीम में चयन के लिये उनके नाम पर विचार किया जाएगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने 37 वर्षीय श्रीसंत पर अगस्त 2013 में आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग के मामले में आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि बीसीसीआई लोकपाल डी के जैन ने पिछले साल यह सजा घटाकर सात साल कर दी थी। पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज योहानन ने कहा, ‘‘श्रीसंत के नाम पर इस साल की रणजी ट्राफी के लिये विचार किया जाएगा। हम श्रीसंत को फिर से केरल की तरफ खेलते हुए देखने के लिये उत्सुक है। केरल में हर कोई इसको लेकर उत्सुक है। ’’
योहानन ने कहा कि श्रीसंत के पास फिटनेस पर काम करने के लिये पर्याप्त समय है। उन्होंने कहा, ‘‘उसका (श्रीसंत) प्रतिबंध सितंबर में समाप्त हो जाएगा। अच्छी बात यह है कि उसके पास तैयार होने के लिये समय है। वह अपने खेल और फिटनेस पर कड़ी मेहनत कर रहा है। हम उसकी फिटनेस और खेल कौशल का आकलन करेंगे। श्री (श्रीसंत) हमेशा हमारी रणनीति का हिस्सा रहा। ’’ घरेलू सत्र अगस्त में शुरू होना था लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण इसमें बदलाव किया जा सकता है। योहानन ने कहा कि श्रीसंत लगातार उनके संपर्क में है। उन्होंने कहा, ‘‘श्रीसंत ने मुझसे लगातार संपर्क बनाये रखा। वह अपनी गेंदबाजी और फिटनेस पर कड़ी मेहनत कर रहा है। हालांकि उसने सात साल से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेली है, हमें उनकी फिटनेस और कौशल का मूल्यांकन करना होगा। ’’ भारत की तरफ से तीन टेस्ट और इतने ही वनडे खेलने वाले योहानन ने कहा, ‘‘लेकिन केरल की टीम में उनकी वापसी का स्वागत करने पर हमें बहुत खुशी होगी। ’’ श्रीसंत ने भारत की तरफ से 27 टेस्ट और 53 वनडे में क्रमश: 87 और 75 विकेट लिये। उन्होंने दस टी20 अंतरराष्ट्रीय में भी सात विकेट हासिल किये।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.