दीक्षांत समारोह के लिए दुल्हन की मानिंद सजा-संवरा टीएमयू

यूनिवर्सिटी का पांचवां दीक्षांत समारोह 31जुलाई को, डिप्टी सीएम होंगे मुख्य अतिथि

@ chaltefirte.com                                मुरादाबाद। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी अपने मेहमानों और एल्युमिनीज के वेलकम को तैयार है। यूपी के माननीय उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा बतौर मुख्य अतिथि पांचवें दीक्षांत समारोह की शोभा बढ़ाएंगे, जबकि पंचायती राज मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह समारोह में गेस्ट ऑफ़ ऑनर होंगे। डॉ. शर्मा का 31 जुलाई को टीएमयू आने का मिनट टू मिनट का कार्यक्रम भी जारी हो गया है। वह पौने ग्यारह बजे टीएमयू के पहुंचेंगे। करीब ढाई घंटे दीक्षांत समारोह में रहेंगे। समारोह में 2018 से 2020 तक के 7,935 स्टुडेंट्स को डिग्रियों तो वहीं टॉप थ्री 450 स्टुडेंट्स को मेडल्स से नवाजा जाएगा। इसमें 153 गोल्ड, 149 रजत, 148 ब्रोंज मेडल्स हैं। समारोह में 2018 से 2021 तक शोध करने वाले 53 शोधार्थियों को पीएचडी अवार्ड की जाएगी। समारोह के दौरान कोविड के मद्देनजर डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइन्स का सख्ती से पालन किया जाएगा।

यूनिवर्सिटी पहुंचने पर कुलाधिपति सुरेश जैन और ग्रुप वाइस चेयरमैन मनीष जैन, एमजीबी श्री अक्षत जैन बुके देकर उनका गर्मजोशी से स्वागत करेंगे। समारोह की अध्यक्षता कुलाधिपति करेंगे जबकि पंचायती राज मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह बतौर गेस्ट ऑफ़ ऑनर शामिल होंगे। इनके अलावा पूर्व कुलाध्यक्ष अरविंद गोयल, शहर विधायक  रितेश कुमार गुप्ता, खादी ग्रामोद्योग के उपाध्यक्ष  गोपाल अंजान, मेयर विनोद अग्रवाल, कांठ विधायक  राजेश कुमार चुन्नू, एमएलसी डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त, बाल संरक्षण आयोग के चेयरमैन डॉ. विशेष गुप्ता, पूर्व सांसद कुंवर सर्वेश कुमार सिंह, बढ़ापुर के विधायक कुंवर सुशांत सिंह, पूर्व सांसद  सतपाल सिंह सैनी की गरिमाई मौजूदगी रहेगी। उल्लेखनीय है, कोरोना के मद्देनजर इस बार दीक्षांत समारोह केवल 31 जुलाई को ही ब्लेंडेड मोड में होगा जबकि पूर्व में चार दीक्षांत समारोह बड़ी भव्यता के साथ तीन दिन तक होते रहे हैं। टीएमयू के अब तक के चारों दीक्षांत समारोह अविस्मरणीय रहे हैं। विवि का यह सौभाग्य रहा है, सभी समारोह में अपने-अपने क्षे़त्र की बड़ी-बड़ी हस्तियों की मेहमान नवाजी की है। 2012 में मिसाइलमैन कहे जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने टीएमयू का आतिथ्य स्वीकार किया। 2012 का दीक्षांत समारोह इसीलिए भी सालों-साल याद रखा जाएगा, क्योंकि फिल्मों के जाने-माने संगीतकार रविंद्र जैन आए थे। टीएमयू ने उन्हें संगीत के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए डी-लिट की उपाधि से सम्मानित किया गया था।

2015 में मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्य न्यायाधीश  केजी बालाकृष्णन दीक्षांत समारोह की शोभा बढ़ा चुके हैं। 2018 में यूपी के तत्कालीन राज्यपाल  राम नाईक ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की थी। सियासत, समाज सेवा, वॉलीवुड और फोटोग्राफी में मील का पत्थर मानी जाने वाली चार शख्सियतों को यूनिवर्सिटी ने डी-लिट की मानद उपाधियों से अलंकृत किया था। इनमें संसदीय कार्य एवं नगर विकास मंत्री श्री सुरेश खन्ना, सेवा को धर्म मानने वाले समाजसेवी  अरविंद गोयल, मशहूर पार्श्व गायक  सोनू निगम, आर्किटेक्चर मॉन्यूमेंट्स एंड लैंडस्केप फोटोग्राफर  अरुण खन्ना शामिल हैं। इस बार को छोड़ दें तो टीएमयू के सभी रॉकऑन में एक से एक फनकार और डांसर अपना जलवा अफरोज कर चुके हैं। 2018 रॉकऑन में युवाओं की धड़कन- अमान मलिक और अरमान मलिक अपने सुरों से मदहोश कर चुके हैं, जबकि इससे पूर्व मशहूर गायक सोनू निगम, सुनिधि चौहान, मीका सिंह, सुखविंदर सिंह, भारती, कृष्णा, सुदेश, हार्ड कौर, शान सरीखी हस्तियां भी टीएमयू के रॉकऑन में धमाल मचा चुकी हैं।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.