इरेडा ने 12,000 MW की सौर परियोजनाओं की निविदा जमा करने की तारीख बढ़ाकर 15 जून की

नई दिल्ली। नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) के तहत एक सार्वजनिक उपक्रम, भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी लिमिटेड (IREDA), ने केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम (CPSU) योजना के चरण- II के कार्यान्वयन के लिए निविदा जमा करने की तारीख 15 जून तक बढ़ा दी है। इस योजना के अंतर्गत वायबिलिटी गैप फंडिंग (वीजीएफ) के साथ 12,000 मेगावाट की ग्रिड से जुड़ी सौर परियोजनाएं स्थापित की जाएंगी। इससे पहले निविदा (बिड) जमा करने की आखिरी तारीख 30 मई थी। घरेलू और आयातित सोलर सेल और मॉड्यूल के बीच लागत अंतर को कवर करने के लिए वीजीएफ प्रदान किया जाता है। आपको बता दे, यह वीजीएफ दो चरणों में जारी किया जाएगा।

20 जुलाई को होगी विजेताओं की घोषणा

सीपीएसयू 15 जून 2021 तक सभी आवेदनों को स्वीकार करेगी और सफल बोलीदाताओं के चयन की घोषणा 20 जुलाई को की जाएगी। इससे पहले आपको बता दें, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई) ने योजना के लिए इरेडा को कार्यान्वयन एजेंसी के रूप में नियुक्त किया था।

सभी के लिए समान होगी भुगतान राशि

इस योजना के तहत, सरकारी उत्पादकों द्वारा उत्पादित बिजली का उपयोग पारस्परिक रूप से सहमत, उपयोग शुल्क 2.45 रुपये/यूनिट के भुगतान से अधिक नहीं किया जा सकता है। यह शर्त चाहे सरकार, सरकारी संस्थाएं अथवा वितरण कंपनियां (DISCOMS), सभी के लिए होगी। अधिकतम स्वीकार्य वीजीएफ रु. 55 लाख प्रति मेगावाट होगा। सरकारी निर्माता के लिए वास्तविक वीजीएफ, नीलामी प्रक्रिया के माध्यम से तय किया जाएगा। वीजीएफ राशि का उपयोग करके नीलामी के माध्यम से परियोजना विकासकर्ता का चयन तय किया जाना है।

ध्यान रहे, अधिकतम स्वीकार्य वीजीएफ राशि की समय-समय पर एमएनआरई द्वारा समीक्षा की जाएगी और यदि लागत का अंतर कम हो जाता है, तो इसे कम कर दिया जाएगा।

29 जनवरी को आमंत्रित किए थे आवेदन

केंद्र सरकार ने वर्ष 2022 तक 100 गीगावॉट सोलर पीवी इंस्टॉलेशन की संचयी क्षमता हासिल करने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य में हिस्सेदार होते हुए, इरेडा ने इस साल 29 जनवरी को ग्रिड (मिनी और माइक्रो ग्रिड सहित) कनेक्टेड सोलर पीवी परियोजनाओं की देशभर में कहीं भी स्थापना के लिए प्रस्ताव आमंत्रित किए थे। यह दूसरे चरण की तीसरी किश्त के तहत 5,000 मेगावाट की कुल क्षमता के लिए “बिल्ड ओन ऑपरेट” (बी-ओ-ओ) आधार पर किया जाना है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.