दांत अनमोल, हिफाजत बेहद जरुरी : डॉ. गोयल

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में मना नेशनल ओरल पैथोलॉजी डे

@ chaltefirte.com                           मुरादाबाद। तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के डेंटल कॉलेज एवं रिसर्च सेंटर के ओरल पैथोलॉजी एवं माइक्रोलॉजी विभाग की ओर से आयोजित नेशनल ओरल पैथोलॉजी डे का शुभारम्भ कॉलेज के प्राचार्य डॉ. मनीष गोयल ने केक काटकर किया। डॉ. गोयल पैथोलॉजी डे पर मुख एवं रक्त सम्बन्धी जाँच की उपयोगिता बताते हुए बोले, हमारे लिए दांत बेशकीमती हैं, इसीलिए इनकी हिफाजत बेहद जरुरी है। ऐसे में दांतों की समय-समय पर जांच अवश्य करानी चाहिए। उन्होंने मरीजों को जाँच को लेकर व्याप्त भ्रांतियों और उनसे बचाव के बारे में भी अवगत कराया। इस मौके पर सोप कार्विंग और ई-स्लोगन-पोस्टर प्रतियोगिताएं भी हुईं। साेप कार्विंग में अंशिका सिंह जबकि ई-स्लोगन-पोस्टर में उन्नति जैन प्रथम रहे जबकि साेप कार्विंग प्रतियोगिता में हुमा फातिमा-द्वितीय और ईशा जोशी-तृतीय जबकि ई-स्लोगन-पोस्टर प्रतियोगिता में शजर अकरम-द्वितीय और अब्दुल्ला तारिक-तृतीय स्थान प्राप्त किया।

पैथोलॉजी डे पर सर्वाधिक अंक पाने वाले छात्र -छात्राओं को प्राचार्य डॉ. मनीष गोयल ने प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया, जिसमें डेंटल एनाटॉमी के बीडीएस प्रथम वर्ष के हर्षित सेठी और ओरल पैथोलॉजी एवं माइक्रोबायोलॉजी की बीडीएस तृतीया वर्ष की अरीफ़ा नाज रहीं। इस मौके पर ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल पैथोलॉजी विभाग के एचओडी प्रो. मेघानंद टी नायक, प्रो. गीतांशु डवार, डॉ. शिल्पा दत्ता मलिक, डॉ. प्रियंका उपाध्याय के अलावा करीब 50 पोस्ट ग्रेजुएट इंटर्न छात्र-छात्राएं मौजूद रहे। दूसरी ओर नेशनल ओरल पैथोलॉजी डे पर डेंटल कॉलेज एवं रिसर्च सेंटर के ओरल पैथोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. मेघानंद टी नायक ने इंदिरा गाँधी इंस्टीट्यूट ऑफ़ डेंटल साइंस, पुदुचेरी और निम्स डेंटल कॉलेज, जयपुर में बतौर चीफ गेस्ट वेबिनार अटेंड किए, जिसमें थूक/लार से होने वाली प्राथमिक जाँच और आधुनिक जाँच की उपयोगिता पर विस्तार से प्रकाश डाला। वेबिनार में 250 से अधिक छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

 

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.