गृह मंत्री के समक्ष टेस्टिंग चार्ज को 50 फीसदी कम करने का सुझाव दिया गया-आदेश गुप्ता

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण से दिल्ली के बिगड़ते हालात को देखते हुए लोगों के हित में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं व कोरोना से लड़ने की तैयारी हेतु माननीय गृहमंत्री अमित शाह द्वारा सर्वदलीय बैठक बुलाई गई। बैठक में हिस्सा लेने के बाद दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि बैठक में टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट को लेकर चर्चा की गई जिसे लेकर माननीय गृह मंत्री ने 20 जून, 2020 तक दिल्ली सरकार को दो गुने कोरोना के टेस्ट करने के निर्देश दिए हैं। प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश अध्यक्ष के साथ, संगठन महामंत्री  सिद्धार्थन एवं नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी सम्मिलित थे।
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली भाजपा की ओर से माननीय गृह मंत्री  अमित शाह के समक्ष टेस्टिंग चार्ज को 50 फीसदी कम करने का सुझाव दिया गया जिसे गृहमंत्री ने लागू करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने बताया कि हमने प्राइवेट अस्पतालों की फीस को कम करके निर्धारित करने की भी मांग की है जिसके लिए डाॅ. पॉल समिति का गठन किया गया है, जो कल अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। इसके बाद प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना इलाज के खर्च की सीमा तय की जाएगी। पहले टेस्टिंग को लेकर दिल्ली के लोग परेशान थे लेकिन टेस्टिंग की संख्या बढ़ाए जाने की जानकारी पाकर दिल्ली के लोगों ने राहत की सांस ली।
उन्होंने  बताया कि आज शाम तक दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य सचिव की ओर से जरूरी संसाधनों की आपूर्ति की सूची देने के बाद मोदी सरकार की ओर से दिल्ली सरकार को आवश्यक संसाधन जैसे ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटीलेटर, पल्स ऑक्सीमीटर व् अन्य सभी आवश्यकताओं को पूरा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 30 जून तक मोदी सरकार और दिल्ली सरकार द्वारा कुल मिलाकर लगभग 37000 बेड की व्यवस्था की जाएगी। इसके अतिरिक्त 500 रेलवे कोच में बनाए गए सभी उपकरण से लैस 8000 बेड की भी व्यवस्था होगी। माननीय गृह मंत्री ने स्वयं केजरीवाल सरकार को सभी प्रकार की सहायता के लिए आश्वस्त किया है। ट्रेसिंग के लिए कंटेनमेंट जोन के प्रत्येक घर की मैपिंग की जाएगी। दिल्ली सरकार के अस्पताल, नगर निगम के अस्पताल और प्राइवेट अस्पताल को मैपिंग के लिए सुनिश्चित जिम्मेदारी को मॉनिटर करने के लिए दिल्ली सरकार के रेवेन्यू विभाग के डिप्टी कमिश्नर को बतौर नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया है। प्राइवेट अस्पतालों को मॉनिटर करने के लिए आईएएस ऑफिसर को जिम्मेदारी दी गई है। दिल्ली सरकार द्वारा अस्पतालों में बेड की उपलब्धता की समय-समय पर सही जानकारी अपडेट के साथ सही जानकारी दी जा रही है, इसे भी मॉनिटर करने के लिए ऑफिसर नियुक्त किए गए हैं।
उन्होंने कहा कि दिल्ली की बदतर स्वास्थ्य व्यवस्था के कारण दिल्ली के लोगों में कोरोना संक्रमण फैलने से जो डर और भय का माहौल था वह कम हुआ है और लोगों में विश्वास की जागृति हुई है कि वो अब सुरक्षित रहेंगे। दिल्ली के लोगों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए जिसके लिए मैं एक बार फिर से माननीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी का धन्यवाद करता हूं। सर्वदलीय बैठक में दिल्ली के सभी राजनीतिक दलों ने अपने राजनीतिक अजेंडा को अलग रखते हुए दिल्ली को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि यह संकट का समय एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का नहीं है, हमें साथ मिलकर कोरोना से लड़ाई लड़नी होगी तभी हम जीत पाएंगे और गृहमंत्री को आश्वस्त किया गया कि कोरोना महामारी संकट से निपटने के लिए हम केन्द्र सरकार और दिल्ली सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के साथ काम करेंगे।
Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.