वसंत साम्प्रदायिक सद्भाव का त्योहार-आदेश गुप्ता

@ chaltefirte.com                   नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि देश में सदियों से गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल पेश करते हुए हिंदू-मुसलमान बड़े धूम-धाम से वसंत त्योहार मनाते हैं। इसी परंपरा और गंगा-जमुनी तहजीब को आगे बढाते हुए भाजपा प्रवक्ता और दिल्ली इंडियन इस्लामिक कल्चर सेंटर के बोर्ड ऑफ ट्रस्टी यासिर जिलानी की ओर से बसंत पंचमी के अवसर पर सूफी कव्वाली का आयोजन किया गया। इसमें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, सांसद हंसराज हंस, प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी, विरेन्द्र सचदेवा, प्रदेश भाजपा मीडिया प्रमुख नवीन कुमार, प्रदेश प्रवक्ता आदित्य झा और प्रवक्ता नेहा शालिनि दुआ सहित बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता इण्डियन इस्लामिक कल्चर सेंटर के अध्यक्ष सिराजुद्दीन क़ुरैशी ने किया।

आदेश गुप्ता ने कहा कि हमारे देश में रंगों का हमेशा महत्व रहा है। गेरुआ रंग साधू-संतों का प्रतीक है तो पीला रंग वसंत ऋतु और किसानों का प्रतीक है। खेतों में पीली सरसों, गेंदा फूल और पेड़ों पर भी पीले फूल मनमोह लेते हैं। ये सब जीवन में उत्साह और उमंग का संचार करते हैं। सब जीवंत हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह पर सदियों से बसंत त्योहार मनाया जा रहा है और सूफी गायक समा बांध देते हैं।

हंसराज हंस ने कहा कि सूफी परंपरा का रंग है वसंत। हमारे यहां रंग धर्म से ज्यादा संस्कृति से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि बसंत को पीले रंग से दर्शाया जाता है क्योंकि बागों में बहार और मौसम में पीले रंग की अधिकता के कारण इसे बसंत उत्सव के तौर पर भी मनाया जाता है। पीला रंग जीवन में मस्ती और उमंग का प्रतीक बन चुका है और साथ ही साथ यह त्योहार किसानों से भी जुड़ा है।

Post add

Leave A Reply

Your email address will not be published.