Header Ads

कांग्रेस के समर्थन के बिना महाराष्ट्र में सरकार नहीं बन सकती : राकांपा


मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस के समर्थन और ‘तीनों दलों’ के विचार-विमर्श के बिना महाराष्ट्र में सरकार नहीं बन सकती। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शरद पवार की अगुवाई वाली राकांपा को आज मंगलवार शाम साढ़े आठ बजे तक सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए कहा है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने राकांपा के विधायकों से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा कि राकांपा ने राज्य में चल रहे राजनीतिक संकट को समाप्त करने के लिए पार्टी प्रमुख शरद पवार को ‘वैकल्पिक सरकार’ का गठन करने के लिए अधिकृत किया है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार गठन पर बातचीत के लिए पवार के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया गया है।’’
मलिक ने कहा, ‘‘कांग्रेस के सहयोग के बिना और तीनों दलों (राकांपा, कांग्रेस और शिवसेना) के बीच विचार विमर्श के बिना सरकार का गठन नहीं हो सकता।’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और के सी वेणुगोपाल मंगलवार शाम पांच बजे पवार से मुलाकात करेंगे।
गौरतलब है कि राज्य में भाजपा के बिना सरकार बनाने की शिवसेना की कोशिशों को सोमवार को उस वक्त बड़ा झटका लगा जब कांग्रेस ने अंतिम समय ने यह कहा कि उसे उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली पार्टी को समर्थन देने से पहले अपने सहयोगी दल राकांपा से साथ और विचार विमर्श करने की जरूरत है। पार्टी के नेता आदित्य ठाकरे ने कहा था राकांपा और कांग्रेस उनकी पार्टी की अगुवाई वाली सरकार का समर्थन करने के लिए ‘सैद्धांतिक समर्थन’ देने पर सहमत हो गयी हैं लेकिन पार्टी राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा तय समयसीमा के पहले इन दलों से समर्थन पत्र नहीं ले सकी।


No comments