Header Ads

राम मंदिर पर SC के फैसले से पहले RSS की अपील, जो भी निर्णय आए, उसे खुले मन से करें स्वीकार


अयोध्या में राम मंदिर पर सुप्रीम के संभावित फैसले को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की प्रचारक वर्ग की बैठक हुई। बैठक में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, भैय्याजी जोशी समेत आरएसएस के नेता मौजूद हैं। संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार की तरफ से जारी सूचना में कहा गया है कि आगामी दिनों में श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण पर सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने की संभावना है। निर्णय जो भी आए, उसे सभी को खुले मन से स्वीकार करना चाहिए। निर्णय के पश्चात देश भर में वातावरण सौहार्द्रपूर्ण रहे, यह सबका दायित्व है। 
बता दें कि राम मंदिर मामले पर सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की बेंच द्वारा रोजाना सुनवाई के बाद अब फैसला सुनाया जाना बाकी है। राम मंदिर पर पक्ष में फैसला आने की स्थिति में सांप्रदायिक तनाव बढ़ने की आशंका है। इसके मद्देनजर संघ ने रणनीति बनाई है।  उन्होंने कहा कि फैसला आने के बाद सड़क पर उतर कर जश्न नहीं मनाएंगे।  मंदिरों और घरों में पाठ करेंगे। जब अयोध्या की जमीन कानूनी रूप से मिल जाएगा तब देश भर में जश्न मनाया जाएगा।

No comments