Header Ads

प्रदूषण को लेकर केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर बोले, दिवाली पर पटाखे ना जलाएं


दिल्ली और एनसीआर में प्रदूषण को लेकर केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि प्रदूषण कम करने में मेट्रो में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि मेट्रो में इतना काम होता है लेकिन उसकी धूल का सामना लोगों को नहीं करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 2006 के बाद दिल्ली में प्रदूषण बढ़ा है और 2014 तक प्रदूषण को लेकर कोई काम ही नहीं हुआ था।
 उन्होंने कहा कि मेरी सलाह है कि दिवाली पर लोग पटाखें ना जलाए। उन्होंने कहा कि बच्चे खुद अपने माता-पिता का सलाह देंगे कि वह पटाखें ना खरीदें। अगर उन्हें पटाखें जलाने है तो ग्रीन पटाखें जलाए जो हाल ही में मंत्री हर्षवर्धन ने जारी किए थे। उन्होंने कहा कि सरकार ने पर्यावरण को लेकर क्रांतिकारी परिवर्तन किए है और आज से 46 विशेष दल सड़कों पर होंगे। 
केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि BS6-वाहन अप्रैल 2020 में दिल्ली में आने वाले हैं। BS6 पेट्रोल/डीजल पहले से ही दिल्ली/NCR में उपलब्ध है। इससे वाहनों से वायु प्रदूषण में भारी कमी आएगी। उन्होंने कहा कि 2006 से दिल्ली में हवा की गुणवत्ता तेजी से बिगड़ रही है। लेकिन 2014 तक न तो इस बारे में बात की गई थी और न ही इसे सुधारने के लिए काम किया गया। 2015 में पीएम मोदी ने दिल्ली/एनसीआर में मौजूद एयर क्वालिटी इंडेक्स 113 AQI मॉनिटरिंग स्टेशन शुरू किया और 29 जल्द ही स्थापित किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि हवा में प्रदूषण पर सरकार की नजर है और प्रदूषण कम करने के लिए सरकार ने कई फैसले लिए है। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रोनिक वाहनों से प्रदूषण कम होगा और बीएस 6 वाहनों से प्रदूषण कम होगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में प्रदूषणा की वजह पराली जलाने से भी होती थी। अब इस दिशा में भी काम हो रहा है और अब पराली के टुकड़े-टुकड़े करके उसका उपयोग खाद के रूप में किया जाएगा। 

No comments