Header Ads

फिर चौंका सकती है मोदी सरकार, उठाया जा सकता है नोटबंदी जैसा बड़ा कदम


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर ऐतिहासिक कदम उठा सकते हैं 8 नवंबर 2016 को ही लोगों के पास नोटबंदी की खबर आई थी। पीएम मोदी ने 8 नवंबर को 5 सौ और 1 हजार रुपये के नोट को बंद करने का फैसला लिया था। इसके बाद इन नोटों का लीगल टेंडर खत्म हो गया। इस फैसले के तीन साल बाद एक ऐसी खबर आ रही है जिससे यह कयास लगाए जाने लगे हैं कि पीएम मोदी एक बार फिर नवंबर के महीने में इतिहास के पन्नों पर अपना नाम दर्ज कराएंगे।
मोदी सरकार ने कालेधन के खिलाफ मुहिम छेड़ रखी है। मोदी सरकार काले धन पर चोट करने के लिए दूसरा बड़ा कदम उठाने की तैयारी में है। नोटबंदी के दौरान बड़े पैमाने पर लोगों ने गलत तरीके से सोने में निवेश किए जाने के शक के आधार पर सरकार कालेधन से खरीदे गए सोने को बाहर निकलवाने की तैयारी में है। बिजनेस चैनल सीएनबीसी-आवाज की रिपोर्ट के मुताबिक कालाधन से सोना खरीदने वालों पर लगाम लगाने के लिए मोदी सरकार खास स्कीम ला सकती है। सूत्रों के मुताबिक सरकार इनकम टैक्स की एमनेस्टी स्कीम के तर्ज पर सोने के लिए एमनेस्टी स्कीम लागू कर सकती है। इस नियम के तहत एक तय मात्रा से अधिक बिना कागजात के गोल्ड रखने पर जानकारी देनी होगी।
जानकारी के तौर पर खुलासा करना होगा कि गोल्ड की कीमत कितनी है। एमनेस्टी स्कीम के तहत गोल्ड की कीमत तय करने के लिए वैल्यूएशन सेंटर से सर्टिफिकेट लेना होगा। ये स्कीम एक खास समय सीमा के लिए ही खोली जाएगी। स्कीम खत्म होने के बाद तय मात्रा से ज्यादा गोल्ड पाए जाने पर भारी जुर्माना देना होगा। प्राप्त जानकारी अनुसार सूत्रों के मुताबिक वित्त मंत्रालय के इकोनॉमिक अफेयर्स विभाग और राजस्व विभाग ने मिलकर इस स्कीम का मसौदा तैयार किया है। वित्त मंत्रालय ने अपना प्रस्ताव कैबिनेट के पास भेजा है। जल्द कैबिनेट से इसको मंजूरी मिल सकती है।

No comments